जिले में बुधवार को दो महिलाएं समेत एक दर्जन लोगों के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। दोनों महिलाएं नवादा नगर में एक प्रसिद्ध महिला चिकित्सक की निजी क्लीनिक में काम करती हैं। एक महिला अकबरपुर और दूसरी महिला मेसकौर प्रखंड की रहने वाली हैं। शेष दस लोग जिले के विभिन्न प्रखंडों के रहने वाले हैं और हाल में ही दूसरे राज्यों से वापस लौटे हैं। कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि होने के बाद सभी को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। इस प्रकार जिले में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 82 तक पहुंच गया है। जिसमें 36 लोग स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं और एक्टिव केस की संख्या 46 है।

डीपीआरओ गुप्तेश्वर कुमार ने बताया कि बुधवार को एक दर्जन लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं। जिसमें चार पकरीबरावां के दो, कौआकोल के दो, नारदीगंज के दो, नवादा सदर के एक, मेसकौर के एक, अकबरपुर के एक और हिसुआ के एक व्यक्ति शामिल हैं। दस लोग प्रवासी हैं। इधर, महिला चिकित्सक के निजी क्लीनिक के दो कर्मियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से हड़कंप मच गया है। महिला चिकित्सक सदर अस्पताल, नवादा में पदस्थापित हैं। बता दें कि पूर्व में सीएस के सुरक्षा गार्ड की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उक्त महिला चिकित्सक ने भी अपने सैंपल की जांच कराई थी। जिसमें उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी। लेकिन, उनकी निजी क्लीनिक के दो कर्मियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद हड़कंप मच गया है। जिले के 12 प्रखंडों में पहुंचा कोरोना संक्रमण

- नारदीगंज प्रखंड क्षेत्र में कोरोना के दस्तक देते ही जिले के 12 प्रखंडों तक संक्रमण पहुंच चुका है। नवादा सदर सहित हिसुआ, मेसकौर, नरहट, सिरदला रजौली, अकबरपुर, गोविदपुर, कौआकोल, पकरीबरावां, वारिसलीगंज प्रखंड में पूर्व में भी कोरोना संक्रमित पाए गए थे। अब नारदीगंज प्रखंड क्षेत्र में दस्तक हो गई है। फिलहाल जिले के दो प्रखंड रोह और काशीचक कोरोना से सुरक्षित हैं। अब तक के आंकड़ें

एकत्रित सैंपल - 1330

कोरोना संक्रमित - 82

स्वस्थ हुए लोग - 36

एक्टिव केस - 46

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस