राजगीर। जो सरकार मंहगाई न रोके वो सरकार निकम्मी है। रोको महंगाई रोको दाम, नहीं तो होगा चक्का जाम आदि नारों के साथ सोमवार को पेट्रोल व डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में महागठबंधन के कार्यकर्ता और समर्थक भारत बंद के दौरान सड़क पर उतरे। कांग्रेस जिला कमेटी के जिला उपाध्यक्ष शम्स तबरेज मलिक के नेतृत्व में बंद समर्थकों ने बैनर, पोस्टर व झंडे के साथ सुबह से लेकर पूरे दिन सड़क पर मार्च और प्रदर्शन करते रहे। वहीं, बंद समर्थकों ने राजगीर रेलवे स्टेशन से खुलकर नई दिल्ली जाने वाली श्रमजीवी एक्सप्रेस को रोक दिया तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की नीतियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। श्रमजीवी एक्सप्रेस का चक्का लगभग आधा घंटा तक जाम रखने के बाद समर्थकों का जत्था शहर की ओर निकल पड़ा जो बस स्टैंड चौराहे से होते हुए धर्मशाला रोड, मुख्य बाजार स्थित जेपी चौक, श्री महावीर हनुमान मंदिर, सब्जी मार्केट, बंगाली पाडा़, थाना रोड से कुंड क्षेत्र की ओर पहुंचा और अपना प्रदर्शन जारी रखा। इस क्रम में शम्स तबरेज मलिक ने कहा कि बेतहाशा बढ़ रही पेट्रोल, डीजल तथा रसोई गैस आदि की कीमतों से आम जनजीवन प्रभावित हो रहा है। इससे आम गरीब लोगों के लिए जरूरी और रोजाना इस्तेमाल में आने वाली चीजों के भी दाम आसमान को छू रही है। मंहगाई ने गरीबों की कमर तोड़ कर रख दी है। प्रदर्शन के दौरान भाकपा नेता परमेश्वर राजवंशी, कांग्रेस के नेता श्यामदेव राजवंशी, उद्धव उपाध्याय, युवा राजद जिला उपाध्यक्ष रणबीर कुमार रत्नाकर, जिला महासचिव अभिषेक कुमार उर्फ गोलू, सत्यजीत पासवान, अशोक कुमार हिमांशु सहित अन्य पार्टियों के नेता और कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Posted By: Jagran