बिहारशरीफ। काफी अरसे से मांग कर रहे लोगों की मुरीदें शुक्रवार को आखिरकार पूरी हो गई। बेन प्रखंड के करवला बाजार तक आरसीसी सिचाई चैनल का निर्माण व रन्नू बिगहा पईन प्रणाली का उड़ाही कार्य का शुभारंभ बिहार सरकार के जल संसाधन एवं सूचना जनसंपर्क विभाग के मंत्री संजय कुमार झा, ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार ने किया। इस अवसर पर सांसद कौशलेंद्र कुमार पूर्व विधायक इंजीनियर सुनील कुमार उपस्थित थे। मंत्री संजय झा ने कहा कि पैन उड़ाही का काम तय सीमा के अंदर पूर्ण करा लिया जाएगा। कार्य के पूर्ण हो जाने पर बेन बाजार के लोगों को काफी लाभ मिलेगा। कहा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार में हर क्षेत्रों का समुचित विकास हुआ है। कोई ऐसा क्षेत्र नहीं जिसका विकास ना हुआ हो। मंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि यह पैन कि उड़ाही लगभग 8 किमी तक की जाएगी। विगत कई वर्षों से गांव के लोग पैन की उड़ाही की मांग करते आ रहे थे। इस अवसर पर प्रखंड प्रमुख रिकू देवी, वरिष्ठ जदयू नेता राजेंद्र प्रसाद, प्रखंड जदयू अध्यक्ष अरविद पटेल, जदयू के मुख्य प्रवक्ता धनंजय देव, लक्ष्मण प्रसाद, विजय मुखिया, कारू तांती, पप्पू कुमार, जितु मांझी, नीरज कुमार, मुन्ना कुमार, शैलेंद्र कुमार, रंजीत कुमार, मिटू चौधरी, पंकज कुमार, बिगुल मुखिया, शैलेंद्र मुखिया, तनु सिंह, रणधीर मुखिया, बबलू कुमार, सोनू सुल्तान मुखिया आदि लोग उपस्थित थे। पात्र लाभुक पीडीएस दुकान में जमा करें कागजात ,चालू होंगे बंद राशन कार्ड

बिहारशरीफ। जिन पात्र लाभुकों का राशन कार्ड बंद हो गया है वे अपने नजदीकी जन वितरण प्रणाली विक्रेता के पास राशन कार्ड एवं आधार कार्ड की छायाप्रति जमा कराएं। यह जानकारी प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी सह पणन पदाधिकारी दीपक कुमार ने शुक्रवार को दी। उन्होंने कहा कि नगर निगम एवं बिहारशरीफ प्रखंड के शहरी एवं देहाती क्षेत्र के 13600 राशन कार्ड को खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग द्वारा तत्काल प्रभाव से सत्यापन के लिए स्थगित किया गया है। जो भी पात्र लाभुक हैं वे अपने राशन कार्ड एवं आधार की छाया प्रति अपने निकटतम जन वितरण प्रणाली विक्रेता के पास जमा करा दें। उन्होंने बताया कि 10 जून के बाद राशन कार्ड के सत्यापन के बाद उन्हें चालू करने की प्रक्रिया प्रारंभ की जाएगी। पणन पदाधिकारी ने कहा कि मृत एवं जिनकी बेटियों की शादी हो गई है उनका आधार कार्ड का छायाप्रति ना लगाएं। उन्होंने बताया कि सिर्फ पात्र लाभार्थी ही अपने कागजात को जमा करें। जिनके पास मोटर चालित तिपहिया ,चार पहिया वाहन, पक्की दीवारों और छत के साथ तीन अथवा अधिक कमरा, आयकर दाता, परिवार के किसी सदस्य की आय ग्रामीण क्षेत्रों में 10000 एवं शहरी क्षेत्रों में 15000 के ऊपर हो एवं दोपहिया वाहन, रेफ्रिजरेटर तथा वाशिग मशीन तीनों उपकरण उपलब्ध हो वे अपात्र के श्रेणी में आते हैं।

Edited By: Jagran