सरमेरा के एक गांव में 14 वर्ष की एक किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है। घटना के बाद आरोपितों ने किशोरी को सरमेरा बाजार में छोड़कर फरार हो गया। यह घटना शनिवार की देर शाम अहियापुर गांव के खंधा में घटित हुई। पीड़िता व उसके परिजनों के बयान पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए इस घटना में संलिप्त विकास कुमार, बिट्टू कुमार, दहिन यादव व शमेन्द्र यादव को गिरफ्तार कर लिया। एसपी सुधीर कुमार पोरिका ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि किशोर से विकास कुमार नामक युवक से पिछले एक साल से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। विकास के बारे में परिजनों को जानकारी होने पर किशोरी के साथ मारपीट की गई। इसके बाद किशोरी घर से भागकर सरमेरा बस स्टैंड आई जहां पर विकास से मुलाकात हो गई और उसने किशोरी को झांसे में लेकर अपने दोस्तों के साथ देर शाम में ही अहियापुर गांव के खंडहरनुमा एक मकान में ले गया और बारी-बारी से सभी ने उसके साथ दुष्कर्म किया। इस घटना के बाद पीड़िता की तबियत बिगड़ने लगी। वह किसी तरह से अपने घर पहुंच कर परिजनों को इसकी जानकारी दी। इधर परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार पीड़िता का घर थाना से महज 500 गज की दूरी पर है जहां से विकास अपने सहयोगियों के साथ उसे उठाकर ले गया था। इसके बाद इस तरह के कुकृत्य को अंजाम दिया। बाद में परिजनों ने तत्काल इसकी सूचना सरमेरा थाने को दी। सूचना के उपरांत थानाध्यक्ष उदय कुमार दल-बल के साथ किशोरी के साथ चारों युवक को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार युवकों ने पुलिस के समक्ष अपनी गुनाह कबूल की है। इधर घटना की जानकारी मिलते ही एसपी सुधीर कुमार पोरिका, एसडीपीओ निशीत प्रिया, ¨बद थानाध्यक्ष मुकेश कुमार, सरमेरा थानाध्यक्ष दल-बल के साथ मौके पर पहुंच कर मामले की जांच में जुट गई। पीड़िता को पुलिस संरक्षण में मेडिकल जांच के लिए सदर अस्पताल भेजा गया है। वहीं चारों आरोपितों को जेल भेजने की तैयारी की जा रही है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप