बिहारशरीफ। राज्य सरकार के सात निश्चय योजनाओं में से एक महत्वपूर्ण निश्चय आर्थिक हल युवाओं को बल के तहत बेरोजगार युवक-युवतियों को रोजगार की तलाश में आर्थिक संकट से निजात दिलाने के लिए मुख्यमंत्री निश्चय स्वयं सहायता भत्ता योजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है। इस योजना के तहत एक हजार रुपए प्रति माह की दर से दो वर्ष तक लिए भत्ता देने का प्रावधान किया गया है। यह जानकारी सोमवार को जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एसएम ने देते हुए बताया कि जिले में वर्तमान में 10,961 बेरोजगार युवाओं को भत्ते का भुगतान किया जा रहा है। इसके लिए अब तक 8.21 करोड़ रुपए भत्ते के तौर पर युवाओं को दी जा चुकी है। इस योजना के तहत 20-25 वर्ष आयु के इंटरमीडिएट उत्तीर्ण युवाओं को रोजगार की तलाश करने के लिए सहायता के तौर पर भत्ता दी जा रही है। इसका लाभ वे युवा उठा रहे हैं जो पैसे के अभाव में रोजगार की तलाश नहीं कर पा रहे थे। डीएम ने बताया कि इस योजना का लाभ अधिक से अधिक युवा उठा सके इसके लिए जिले के सभी प्रखंडों एवं पंचायतों में विशेष शिविर लगा कर आवेदन लेने के निर्देश जिला निबंधन एवं परामर्श केंद्र को दिए गए हैं। इसी कड़ी के तहत अगस्त महीने में स्वयं सहायता भत्ता का लाभ लेने वाले 11 सौ बेरोजगार युवकों से आवेदन दिए थे। आवेदन लेने का सिलसिला आगे भी जारी रखा जाएगा। इस भत्ता का लाभ लेने वाले युवाओं को कुशल युवा कार्यक्रम के तहत अनिवार्य रूप से प्रशिक्षण देने की व्यवस्था की गई है। जब ये युवा प्रशिक्षण प्राप्त कर लेंगे उसके उपरांत उन्हें 5 महीने और भत्ते की राशि दी जाएगी।

Posted By: Jagran