निज संवाददाता, बिहारशरीफ : भारत साधु समाज के महामंत्री स्वामी हरिनारायणानंद ने कहा है कि सामूहिक प्रार्थना से आत्म शुद्धि होती है। सामूहिक प्रार्थना में बहुत बल है। प्रकृति में ऊर्जा का संचार होता है। इससे स्वयं को शांति मिलती है। विश्व का कल्याण भी संभव है। श्री स्वामी चंडी प्रखंड के दयालपुर में शतचंडी यज्ञ के सातवें दिन पहुंच प्रवचन सुनाये। इस यज्ञ का आयोजन गांव के ही एक ब्राह्माण द्वारा किया गया है। रात में भागवत कथा भी होती है।

प्रवचन में कहा गया कि यज्ञ जीवन चक्र का एक इकाई है। यज्ञ से वर्षा होती है। वर्षा से अन्न उपजता है। अन्न से जीवन वृद्धि होती है। सृष्टि को नियमित रखने के लिए यज्ञ कर्म होते रहना चाहिए। इससे मानव की बृद्धि एवं विचार परिमार्जित होते हैं। स्वामी जी के प्रवचन के मौके पर स्थानीय मुखिया उपेन्द्र कुमार बिहारशरीफ नेत्र निदान आंख अस्पताल के धीरज कुमार प्रसन्ना, शिक्षक नेता राकेश बिहारी शर्मा, ग्रामीण अजय सिंह, सुधीर सिंह, सत्येन्द्र सिंह, अशोक सिंह, पंकज कुमार समेत दर्जनों लोग उपस्थित थे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर