पूर्वी चंपारण [जेएनएन]। बिहार के पूर्वी चंपारण स्थित पताही में एक महिला को डायन बताकर निर्वस्‍त्र कर पीटा गया, फिर मानव मल का घोल पीले को मजबूर किया गया। महिला की स्थिति अस्‍पताल में गंभीर बनी हुई है। घटना से इलाके में तनाव का माहौल है।

महिला को कपड़े फाड़कर पीटा, मल पिलाया

मिली जानकारी के अनुसार पताही के जिहुली पंचायत स्थित महादलित बस्ती निवासी एक 55 वर्षीय महिला को गांव के एक कथित तांत्रिक मजनूं मियां और उसके परिवार के सदस्यों ने डायन का आरोप लगाते जमकर पीटा। इस दौरान महिला के कपड़े फाड़ दिए गए। इतना ही नहीं, उसे मानव मल पीने को भी मजबूर किया।

बच्‍ची की मौत का बताया जिम्‍मेदार

थानाध्यक्ष विकास तिवारी ने बताया कि कि चार दिन पूर्व मजनू मियां के घर में डायरिया की चपेट में आने से 4 बच्चे बीमार पड़े थे। इसमें जिहुली कोट टोला निवासी मजनू मियां की 6 वर्षीया पोती अफसाना खातून की मौत हो गई। घर के अन्य लोग बीमार चल रहे हैं। मजनू मियां ने महिला को डायन बताते हुए उसे अफसाना की मौत के लिए जिम्‍मेदार बताया।

घटना के बाद इलाके में तनाव

पीडि़त महिला झाड़-फूंक का काम करती है। मजनू मियां भी झाड़-फूंक करने वाला तांत्रिक है। घटना के बाद गांव में तनाव को देखते हुए पुलिस सतर्क है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस