पश्‍चिम चंपारण, (सिकटा) जासं। कहते है कि मां का दिल तो हमेशा अपने बच्‍चों के लिए पसीजता है जिसके लिए वह हर त्याग करने को तैयार रहती है, लेकिन बिहार के पश्‍चिम चंपारण में एक चौंकाने वाली घटना सामने आयी है। जहां प्रेमी के चक्‍कर एक महिला ने अपने दो बच्‍चों को छोड़कर फरार हो गई। कंगली थाना के कठिया-मठिया गांव की दो बच्चों की मां को हरियाणा के करनाल के रहने वाले एक युवक से फेसबुक पर प्यार हुआ और वह ढाई वर्ष पहले घर से फरार हो गई।

गलत तरीके से फंस गया पड़ोसी 

हालांकि विवाहिता के अपहरण के आरोप में गांव के ही बदरूल हसन अंसारी समेत अन्य के खिलाफ विवाहिता के स्वजन ने अपहरण की प्राथमिकी दर्ज करा दी थी। जिसमें बदरूल हसन अंसारी ने पुलिस दबाव की वजह से न्यायालय में बीते दिनों आत्मसमर्पण भी किया था। चार माह के बाद न्यायालय से जमानत पर हाल हीं में मुक्त हुआ है। विवाहिता के मिलने के बाद अपहरण के आरोप में घर छोड़कर फरार अन्य आरोपितों ने राहत की सांस ली है।

भाई ने पड़ोसी पर लगाया अपरहरण का आरोप

थानाध्यक्ष पूर्णकाम समर्थ ने बताया कि विवाहिता की दो बच्चियां भी है। एक की अवस्था आठ माह है और दूसरे करीब डेढ वर्ष की है। विवाहिता को न्यायालय में बयान के लिए भेजा गया है। विवाहिता की शादी उसके गांव में ही हुई थी। मार्च 2020 में मोबाइल पर हुए प्रेम की वजह से विवाहिता अपने दो बच्चों को छोड़कर फरार हुई थी। जब वह फरार हुई थी तो उसके बच्चों की अवस्था दो- तीन साल की थी। हालांकि इस मामले में विवाहिता के भाई ने शादी की नियत से अपहरण करने का आरोप लगाते हुए गांव के ही बदरूल हसन अंसारी समेत उसके स्वजन के विरूद्ध कंगली थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी। पुलिस महिला को खोज रही थी। इसी दौरान पुलिस को सूचना मिली कि वह हरियाणा के करनाल में है। विवाहिता को बयान के लिए न्यायालय में प्रस्तुत किया गया है। न्यायालय के आदेश पर अग्रेतर कार्रवाई होगी।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh