मुजफ्फरपुर, जेएनएन। Lychee home delivery : लीची की होम डिलीवरी के लिए लोगों का इंतजार और बढ़ गया है। लीची की खटास के कारण उद्यान विभाग ने होम डिलीवरी की मियाद बढ़ा दी है। अब फल के पूरी तरह पकने के बाद ही इसकी होम डिलीवरी की जाएगी। इसमें दो से तीन दिन लग सकता है।

अभी फल में मिठास नहीं

मंगलवार को सहायक निदेशक उद्यान अरुण कुमार ने जिले के 50 से अधिक लीची बाग का निरीक्षण किया। साथ ही फल की जांच की। इसमें पाया कि फल पूरी तरह तैयार नहीं है। फल में मिठास नहीं आई है। फल अभी खट्टा हैं। लिहाजा, तत्काल होम डिलीवरी को टाल दिया गया। सहायक निदेशक उद्यान अरुण कुमार ने बताया कि फल पका नहीं है। ऐसे में खट्टे फल की होम डिलीवरी से बदनामी होती। ऐसे में होम डिलीवरी को तत्काल रोक दिया गया है। दो- तीन दिन में जब फल पूरी तरह तैयार हो जाएगा, तब इसकी होम डिलीवरी की जाएगी।

बिहार राज्य बागवानी मिशन का डाकघर से करार

बताते चलें कि लॉकडाउन के चलते लीची को बाजार उपलब्ध कराने के लिए बिहार राज्य बागवानी मिशन ने डाकघर के साथ करार किया था। इसके तहत लोगों को उद्यान विभाग के वेबसाइट पर ऑनलाइन ऑर्डर देना था। इसके आधार पर डाक विभाग फार्मर्स प्रोड्यूसर्स कम्पनी के माध्यम से लोगों के घरों तक लीची की होम डिलीवरी करेगी। लीची की होम डिलीवरी के बाद उपभोक्ता डिजिटल पेमेंट या कैश पेमेंट करेंगे।

25 मई से होम डिलीवरी की थी घोषणा

सरकार की इस पहल को जबरदस्त रिस्पांस मिला था। बड़ी संख्या में लोगों ने ऑनलाइन ऑर्डर दिया था। पूर्व में 25 मई से होम डिलीवरी की घोषणा की गई थी जिसे बढ़ा कर 26 मई कर दिया गया था। लेकिन, फल के पूरी तरह तैयार नहीं होने के चलते होम डिलीवरी को अब दो- तीन दिनों के लिए टाल दिया गया है। 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस