समस्‍तीपुर (सरायरंजन),  जासं।  वीआईपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह पूर्व मंत्री मुकेश सहनी ने मुसरीघरारी में तीन लोकसभा के पार्टी कार्यालय का उद्घाटन सोमावार को समारोहपूर्वक किया। इसको संबोधित करते हुए कहा कि निषाद समाज के लोग नेता नहीं, सेवक बनें। इसके लिए हमसभी को साथ में लेकर पूरे बिहार में निषाद समाज के सम्मान एवं हक की लड़ाई लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूरे बिहार और देश को हमने दिखा दिया कि मल्लाह जाति के बगैर काम नहीं चलेगा। बिहार में जिस दल के 122 विधायक होंगें, वही सरकार बनाएगा। सरकार बनने में विधायक थे तो हमने पूरी ईमानदारी से एनडीए का साथ दिया और सरकार बनाई। लेकिन आज हमें और हमारे समाज को छूरा भोंकने का काम किया गया। सिर्फ हमसे इतनी भूल हुई की यूपी में हम चुनाव लड़ गए। क्या हम अलग राज्य में चुनाव नहीं लड़ सकते है ? आज हमारे निषाद समाज के लोगों को हर पार्टी के लोगों द्वारा उपेक्षित किया जा रहा है।

बिहार में हर पार्टी के लोगों को एमएलसी, विधायक और सांसद के टिकट के लिए करोड़ों रुपये खर्च करने पड़ते हैं। हमने यहां की बंजर भूमि को हरा-भरा करने का काम किया है। बिहार में हमारे समाज के 25 प्रतिशत लोग हैं। आने वाले समय में हम मुख्यमंत्री की गद्दी पर बैठेंगे। इसके लिए आप सभी लोग तन-मन -धन से वीआईपी में काम करें और आगे बढ़े। हमारी पार्टी के लोग उजियारपुर लोकसभा से चुनाव लडेंगे। इसकी तैयारी हमने शुरू कर दी है। हम अपने और निषाद समाज के दम पर सत्ता को अपनाने का काम करेंगे। बिहार में निषाद समाज के लोग कार्यकर्ता हैं और आगे उच्च पदों पर तैनात होंगे।

कार्यक्रम की अध्यक्षता वीआईपी के जिलाध्यक्ष आदर्श कुमार प‍िंटू ने की। संचालन पार्टी के जिला प्रवक्ता भारतेंदु पाठक ने किया। समारोह को पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वैद्यनाथ सहनी, पूर्व विधायक रामचंद्र ङ्क्षसह निषाद, प्रदेश उपाध्यक्ष विपिन सहनी, प्रदेश सचिव राम अनुग्रह सहनी, सत्यनारायण स‍िंह निषाद, पुष्पा सहनी, दिलीप सहनी ,इंद्रजीत सहनी, विपत सहनी, दुलारचंद सहनी, सुरेश कुमार निषाद, नागेंद्र सहनी, उमेश सहनी, अर्जुन सहनी, जय प्रकाश सहनी आदि ने संबोधित किया। मौके पर पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh