मधुबनी जेएनएन। की दै छियै, कम से कम पांच हजार दियौ। 144 डेंजरस चीज छै। अकरा लगौनाय मामूली बात नै छै। ओय से कम में नै होयत। नै अछि त एटीएम से निकाली के ल के आऊ’। जिले का एक पुलिस पदाधिकारी रिश्वत लेते वायरल वीडियो में यह कहते नजर आ रहा है। आवेदक द्वारा कम राशि दिए जाने पर अधिक की मांग कर रहा है। बीके ठाकुर नामक इस दारोगा को निलंबित कर दिया गया है। एसपी डॉ. सत्य प्रकाश ने बताया कि उस पर विभागीय कार्यवाही भी चलाई जाएगी। मामले की जांच कर डीएसपी सदर से रिपोर्ट मांगी गई है। देखें वीडियो: 

धारा 144 लगाने के एवज में पैसे की मांग

बताया गया कि सात जनवरी के इस वीडियो में सकरी थाने में पदस्थापित दारोगा बीके ठाकुर एक महिला की जमीन विवाद की शिकायत की जांच करने उसके घर गया था। वायरल वीडियो के अनुसार, उन्होंने विवादित जमीन पर धारा 144 लगाने के एवज में पैसे की मांग करने लगा। आवेदक की ओर से कुछ राशि दी गई। मगर, वह पांच हजार से कम पर नहीं मान रहा था। वह एटीएम से राशि लाने की बात कह रहा। हालांकि, काफी मान मनौव्वल के बाद मान जाता है। मगर, यह कहता है कि बाद में लेते आइएगा। इसके बाद देखिए कैसा कागज बनाते हैं। इसके बाद वे राशि को अपनी डायरी में रखकर घर से बाहर निकल जाते हैं। साथ ही वे जाते-जाते दूसरे पक्ष से भी मिलने की बात कहते हैं।

पुलिस महकमे में हड़कंप

इस वीडियो के वायरल होते ही पुलिस महकमे में हडकंप मच गया है। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सात जनवरी की शाम को ही सकरी थानाध्यक्ष अशोक कुमार व सदर डीएसपी कामनी बाला को इसकी जानकारी मिल चुकी थी। आठ दिसंबर को अचानक दारोगा बीके ठाकुर का तबादला सकरी थाना से पुलिस लाइन मधुबनी कर दिया गया। जबकि दो माह पूर्व ही वह औरंगाबाद से मधुबनी आया है। दिसंबर में सकरी थाने में योगदान किया था। उक्त दारोगा का गृह जिला मधुबनी ही है। 2021 में वह सेवानिवृत्त होगा।

 सकरी थानाध्यक्ष अशोक कुमार ने बताया की वायरल वीडियो की जानकारी नहीं थी। आठ जनवरी को उनका तबादला विभागीय प्रक्रिया के तहत हुआ था। इसका उक्त मामले से कोई लेना देना नहीं है। कहा कि महिला के द्वारा इससे पूर्व भी जमीन विवाद की शिकायत थाने में की गई थी। लोक शिकायत से मामला आने के बाद बीके ठाकुर को मामले की जांच के लिए भेजा गया था। मगर, वहां क्या सब हुआ इसकी जानकारी नहीं थी।

इस बारे में  मधुबनी एसपी डॉ. सत्य प्रकाश ने बताया कि दारोगा बीके ठाकुर को निलंबित कर दिया गया है। विभागीय कार्यवाही भी चलाई जाएगी। मामले की जांच कर डीएसपी सदर से रिपोर्ट मांगी गई है।

Posted By: Murari Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस