पूर्वी चंपारण, जेएनएन। चकिया-साहेबगंज पथ में रविवार की शाम हरपुर किशुनी जाने वाली मोड़ पर साइकिल सवार व ई- रिक्शा चालक के बीच हुए विवाद के बाद दो पक्ष आमने सामने आ गए। दोनों पक्षों के सैकड़ों लोग लाठी, भाला, तलवार लेकर एक दूसरे पर धावा बोल दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने हवाई फायङ्क्षरग कर दोनों पक्षों को खदेड़ा। इस दौरान दोनों पक्षों की तरफ से हुई रोड़ेबाजी में थानाध्यक्ष सह इंस्पेक्टर निर्मल कुमार, एसआई धर्मेन्द्र कुमार समेत आधा दर्जन पुलिसकर्मी चोटिल हो गए।

 सूचना पर एसडीओ बृजेश कुमार व डीएसपी शैलेन्द्र कुमार आसपास के थाना पुलिस के साथ पहुंच मोर्चा संभाला। रोड़ेबाजी में दोनों पक्षों से दर्जन भर लोगों के घायल की सूचना हैं, जिसे अबतक चिन्हित नहीं किया जा सका हैं। स्थिति बिगड़ते देख एसपी नवीनचंद्र झा भी रैपिड एक्शन फोर्स के साथ पहुंचें। इसके साथ ही मधुबन से एसएसबी के जवानों को बुलाया गया। फिलहाल स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में बताई जा रही हैं। बाइक से आए एसएसबी के जवान आसपास के गांव में फ्लैग मार्च कर रहे हैं।

 बताया जाता है कि हरपुर किशुनी गांव के ई रिक्शा चालक अपने साथ महिला सवारी को लेकर जा रहे थे। सामने से खरकी कुंआवा गांव का साइकिल सवार जा रहा था। कच्ची सड़क पर जलजमाव होने के कारण दोनों एकदूसरे को रोकने के लिए कहने लगे। इसी को लेकर दोनों के बीच हल्की झड़प हो गई। इसकी सूचना ई रिक्शा चालक ने हरपुरकिशुनी गांव में दी। जिसके बाद सैकड़ा की संख्या में तलवार, लाठी लिए लोग खरकी कुंआवा पहुंच गए व रोड़ेबाजी करने लगे। देखते ही देखते दोनों पक्षों के सैकड़ों लोग आमने सामने आकर रोड़ेबाजी करने लगे। बीच-बचाव के दौरान पुलिसकर्मी भी चोटिल होने लगे तो हवाई फायरिंग कर भीड़ को हटाया गया।

 हालांकि पुलिस फायरिंग से इनकार कर रही हैं। एसपी ने कहा कि दोषियों को चिन्हित कर उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी। दोनों पक्षों से जो भी लोग इस घटना में शामिल हैं, उन्हें बक्शा नहीं जाएगा। फिलवक्त जिला पुलिस कप्तान सहित अन्य आलाधिकारी घटना स्थल पर कैंप किए हुए हैं। समाचार प्रेषण तक स्थिति तनावपूर्ण परंतु नियंत्रण में हैं। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस