बैरगनिया (सीतामढ़ी), जासं । भारत-नेपाल सीमा पर तैनात एसएसबी 20वीं बटालियन के जवानों ने गुरुवार को 36 लाख 50 हजार भारतीय करेंसी व 10 हजार 4 सौ नेपाली करेंसी के साथ एक बाइक पर सवार दो कारोबारी को गिरफ्तार किया है। ये रुपये हवाला के जरिये नेपाल पहुंचाए जा रहे थे। बताया जा रहा है कि दोनों कारोबारी सीतामढ़ी के रास्ते मुख्य पथ होकर बैरगनिया आ रहे थे।

एसएसबी के इंस्पेक्टर दीपक कुमार के नेतृत्व में गश्ती कर रहे जवानों ने संदेह के आधार पर नंदवारा रेलवे क्राॅसिंग के समीप उनको रोककर तलाशी ली। उनके पास बैग में रुपये की बरामदगी हुई। उनकी पल्सर मोटरसाइकिल भी जब्त कर ली गई। दोनों व्यक्तियों को हिरासत में ले लिया गया। उनकी पहचान बैरगनिया थाना क्षेत्र के अशोगी निवासी लक्ष्मण प्रसाद चौधरी के पुत्र चंदन कुमार व पचटकी यदू गांव निवासी स्व. सूरज राय के पुत्र अच्छे लाल राय के रूप में की गई है।

जब्त रुपय के साथ दोनों कारोबारियों को स्थानीय थाने को एसएसबी ने सीपूर्द कर दिया। बताते चलें कि पिछले कई माह से हवाला कारोबारी बड़ी तेजी से सक्रिय हैं। इससे पहले सितंबर महीने में बैरगनिया बॉडर से नेपाली व भारतीय रुपये के साथ दो कारोाबरी गिरफ्तार किए गए थे। एसएसबी 20वीं बटालियन के जवानों ने ही एक स्कॉर्पियो से भारी मात्रा में भारतीय व नेपाली रुपये बरामद किया था। मौके से चालक सहित दो लोगों को गिरफ्तार किया था। पकड़े गए लोगों में एक पूर्वी चम्पारण और दूसरा सीतामढ़ी जिले का रहने वाला था। इससे के बाद अक्टूबर महीने में बैरगनिया-गौर सीमा पर रौतहट पुलिस ने एक भारतीय युवक को 15 लाख नेपाली रुपये के साथ गिरफ्तार किया था। नेपाली पुलिस सूत्रों के मुताबिक बैरगनिया नगर पंचायत के वार्ड-1 होकर अशोगी गांव का एक कारोबारी 15 लाख नेपाली रुपये लेकर रौतहट नेपाल के गौर नगरपालिका क्षेत्र के माहदेवपट्टी गांव में प्रवेश कर ही रह था, कि नेपाल पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021