मुजफ्फरपुर, जेएनएन। हत्था ओपी क्षेत्र के हत्था-खनुआ गांव में बतौर दहेज दो लाख रुपये नहीं मिलने से नाराज ससुरालियों ने रविवार की रात रानी देवी (22) की पीट-पीटकर हत्या कर दी। इसके बाद ससुराल वाले शव को घर में छोड़ फरार हो गए। सोमवार की सुबह इलाके में सनसनी फैल गई। सूचना के बाद हत्था ओपी प्रभारी शमीम अख्तर सशस्त्र बल के साथ मौके पर पहुंच कर मामले की जांच की। साथ ही एसकेएमसीएच में पोस्टमार्टम करा मायका वालों को शव सौंप दिया।

 घटना की बाबत रानी देवी के पिता कुढऩी थाना के बड़ा सुमेरा निवासी लखिंद्र साह के आवेदन पर दहेज हत्या की प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस ने अलग-अलग गांवों में छापेमारी कर हत्यारोपी पति मनोज साह, ससुर बुटन साह व सास भुल्ली  देवी को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया। दर्ज प्राथमिकी के अनुसार, रानी की शादी वर्ष 2016 में खनुआ निवासीं मनोज साह से हुई थी।

 शादी के कुछ समय बाद से ही पति समेत ससुराल वाले बतौर दहेज दो लाख रुपये की डिमांड करने लगे। रानी के इन्कार के बाद उसे प्रताडि़त किया जाने लगा। रविवार की रात पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी गई। इलाज के नाम पर पूसा ले जाया गया लेकिन चिकित्सकों ने उसे मृत करार दिया। इसके बाद ससुराल वाले शव लेकर घर पहुंचे। घर में बिस्तर पर शव रख कर सभी फरार हो गए। 

जीविका कर्मी की हत्या कर फेंका शव

जैतपुर ओपी क्षेत्र के देवरिया मुजफ्फरपुर मार्ग के बसरा सुकुल गांव में सोमवार की सुबह एक अधेड़ महिला का शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई है। स्थानीय लोगों ने मृतका की पहचान ओपी क्षेत्र के जगिरिया निवासी विनोद साह की पत्नी सुलेखा देवी (40) के रूप में की। सुलेखा देवी जीविका से जुड़ी थी। साथ ही सहारा इंडिया व एलआइसी का भी काम करती थी। सूचना के बाद घटनास्थल पहुंची जैतपुर ओपी पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

 जानकारी के अनुसार, सुलेखा देवी रविवार की दोपहर तीन बजे घर से काम को लेकर निकली थी। लेकिन, देर शाम घर नहीं पहुंची। स्वजनों ने फोन किया तो मोबाइल बंद मिला। सोमवार की अहले सुबह घर से दो किमी की दूरी पर सुकुल बसरा गांव में वसुधा केंद्र के सामने सड़क किनारे उसका शव मिला। जैतपुर ओपी प्रभारी शशिभूषण कुमार ने बताया कि महिला की अन्यत्र हत्या कर शव को बसरा सुकुल गांव में फेंका गया है। बताया कि अब तक आवेदन नहीं मिला है। आवेदन मिलने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। बताया गया है कि सुलेखा देवी चार बेटियों एवं एक बेटे के साथ रहती थी। पति विनोद साह असम में रहते हैं। 

Posted By: Murari Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस