मुजफ्फरपुर, जेएनएन। विश्वविद्यालय के आठ विभिन्न कॉलेजों में पीजी में नामांकन के लिए सीटों में 20 फीसद की बढ़ोतरी की गई है। स्नातक में नामांकन के लिए जिन छात्रों ने ऑनलाइन फीस जमा की है, लेकिन चालान जमा नहीं कर पाए हैं, उन्हें इसे जमा करने का मौका दिया गया है। उधर, संबद्धता रद किए जा चुके डिग्री कॉलेजों के नाम विश्वविद्यालय के पोर्टल पर अपलोड नहीं किए जाएंगे।

  नामांकन मॉनीटरिंग कमेटी की प्रोवीसी डॉ. आरके मंडल की अध्यक्षता में हुई बैठक में ये निर्णय हुए। मीडिया प्रभारी डॉ. ललित किशोर ने बताया कि डॉ. सीकेपी शाही, डॉ. राजीव विमल, कॉलेज इंस्पेक्टर आर्टस डॉ. प्रमोद कुमार, साइंस डॉ. नसीम भी मौजूद थे।

इन कॉलेजों में बढ़ीं सीटें

विश्वविद्यालय एवं कॉलेजों के स्नातकोत्तर विभाग में चल रहे विषयों में पूर्व से निर्धारित सीटों की संख्या बढ़ाकर 20 फीसद अधिक कर दी गई है। इनमें एलएस कॉलेज, एमडीडीएम, आरडीएस, आरएन कॉलेज हाजीपुर, एमजेके कॉलेज, बेतिया, एसआरकेजी कॉलेज, सीतामढ़ी, डॉ. जगन्नाथ मिश्रा कॉलेज, एमएस कॉलेज मोतिहारी शामिल हैं।

ऑनलाइन फीस भरने वाले जमा करें चालान

यूएमआइएस नोडल अफसर भरतभूषण को ऑनलाइन जमा किए गए फॉर्म का सर्वेक्षण करने के लिए अधिकृत किया गया। उन्हें यह भी निर्देशित किया गया कि वैसे छात्र, जो स्नातक में ऑनलाइन फीस जमा की हैं, लेकिन चालान जमा नहीं कर पाए, उन्हें नामांकन के लिए योग्य माना जाए एवं शीघ्र चालान जमा करने का एक मौका दिया जाए।

 वैसे डिग्री महाविद्यालय (संबद्ध कॉलेज) जिन्होंने पोर्टल पर नाम डलवाने के लिए विश्वविद्यालय में आवेदन किए थे, उन आवेदनों का कमेटी द्वारा अध्ययन किया गया। इसकी रिपोर्ट में स्पष्ट किया गया कि राज्य सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों एवं मापदंडों को नहीं अपनाने के कारण उनकी संबद्धता रद की गई है। इसी आलोक में उनके आवेदन अस्वीकृत कर दिए गए हैं।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस