पूर्वी चंपारण, जासं। मुजफ्फरपुर-सुगौली रेलखंड पर चकिया के समीप रेलवे द्वारा अंडरपास बनाने के विरोध में बुधवार की सुबह सैकड़ों ग्रामीण रेलवे ट्रैक पर जमा हो गए व घंटों परिचालन ठप कर खूब हंगामा किया। इस कारण मुम्बई सेंट्रल भागलपुर एक्सप्रेस ट्रेन वहां घंटो फंसी रही व सैकड़ो यात्री परेशान रहे। मामले की सूचना पर पहुचे आरपीएफ अधिकारियों ने काफी मशक्कत के बाद ग्रामीणों को शांत कराने में कामयाब हुए। इसके बाद लगभग ढाई घंटे से जाम किये गए ट्रैक को खाली हो पाया।

मिली जानकारी के मुताबिक चकिया के परसौनी गांव में रेलवे द्वारा गांव के लोगोन के आवागमन के लिए अंडर पास बनाया जा रहा है, जिसका विरोध ग्रामीण कई दिनों से कर रहे थे। लेकिन स्थानीय से लेकर वरीय अधिकारी तक किसी ने उनकी मांगों पर धयान नहीं दिया। इससे आजिज गांव के सैकड़ों महिला पुरुष व बच्चे आज बुधवार की सुबह रेल ट्रैक पर जमा हो गए व ट्रैन को रोक मुज़फ़्फ़रपुर सुगौली मार्ग को जमकर हंगामा करने लगे। ग्रामीणों का आरोप था कि रेलवे इस ट्रैक पर उनके गांव में अंडर पास बना रहा है, जहां हमेशा पानी भरा रहता है। यह क्षेत्र पूरी तरह से बाढ़ग्रस्त इलाका है। इसके कारण लोगों को आने जाने में काफी परेशानी झेलनी पड़ेगी। ग्रामीणों द्वारा रेल आवागमन बाधित करने के कारण ट्रेन में सफर कर रहे लोग काफी परेशान दिखे। ग्रामीणों की मात्र एक ही मांग थी कि इस अंडर पास का निर्माण बन्द करवाया जाए व यहां रेलवे ढाला की स्वीकृति प्रदान की जाय। आक्रोशित लोगों ने बताया कि अभी बरसात शुरू भी नही हुई है कि निर्माणाधीन अंडरपास में पानी भर गया है।