मुजफ्फरपुर : शहर में सोमवार को चौतरफा ट्रैफिक जाम से शहरवासी परेशान रहे। हालांकि जाम से निजात दिलाने को पूर्व की अपेक्षा विभिन्न चौराहों पर अधिक संख्या में जवानों की तैनाती की गई थी। इसके बाद भी जाम का संकट बना रहा। इससे लोग परेशान रहे।

बताया गया कि स्टेशन रोड व अघोरिया बाजार में जाम में फंसे दो बाइक सवारों के बीच ओवरटेक करने को लेकर हाथापाई हो गई। किसी तरह फिर मामला शांत हुआ। प्राय: सोमवार को शहर में भीषण ट्रैफिक जाम की समस्या रहती है। इससे निपटने को यातायात पुलिस की तरफ से रणनीति नहीं बनाए जाने से लोगों को काफी परेशानी होती है। नतीजा शहर के स्टेशन रोड, सूतापट्टंी, जूरन छपरा समेत अन्य इलाकों में जाम से लोग जूझते रहे। मोतीझील ओवरब्रिज से उतरने के साथ ही स्टेशन रोड में जाम की समस्या पूरे दिन बनी रही। यहां पर एक जवान तैनात थे। वह भी सही ढंग से डयूटी करने के बजाय दूसरे काम में दिमाग लगाने में व्यस्त नजर आए। इसके अलावा हाईवे पर कच्ची-पक्की, भगवानपुर, गोबरसही, चांदनी चौक व जीरोमाइल में भी ट्रैफिक जाम की स्थिति बनी थी। इससे वाहनों की कतारें लग गईं। यात्री फंसे रहे। किसी तरह यात्री वाहन गंतव्य की ओर रवाना हो सके।

नो इंट्री में ट्रैक्टरों का परिचालन : शहर में भले ही जाम का संकट रहे, लेकिन ट्रैक्टर चालकों की मनमानी थमने का नाम नहीं ले रही। लोगों का कहना है कि यातायात पुलिस की मिलीभगत से नो इंट्री में विभिन्न रूटों में ट्रैक्टरों का परिचालन कराया जाता है। इससे कभी भी शहर में बड़ी अप्रिय घटना हो सकती है। यातायात में तैनात अधिकारी नो इंट्री में ट्रैक्टर के परिचालन को रोक नहीं पा रहे हैं। इससे मिठनपुरा व आसपास के इलाके में भी ट्रैफिक जाम की समस्या बनी रहती है।

Edited By: Jagran