जयनगर (मधुबनी), जासं। Independence Day 2022 स्वतंत्रता दिवस को देखते हुए भारत-नेपाल सीमा पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। भारत -नेपाल सीमा पर स्थित जयनगर रेलवे स्टेशन पर भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गई है। यहां से खुलने वाली सभी ट्रेनों में सघन चेक‍िंग अभियान चलाया जा रहा है। भारत- नेपाल सीमा पर तैनात एसएसबी 48वीं वाहिनी के जवानों ने सीमा पर पेट्रोल‍िंग बढ़ा दी है।

पूछताछ के बाद ही जाने की इजाजत

कार्यवाहक कमांडेंट चंद्रशेखर ने बताया कि सभी बीओपी पर तैनात अधिकारियों और जवानों को दिन-रात पेट्रोलिंग करने और सीमा पार करने वाले वाहनों और लोगों की चेकिंग और गहन पूछताछ के बाद ही जाने का निर्देश दिया गया है। स्वतंत्रता दिवस को देखते हुए सीमा पर सुरक्षा की चाक चौबंद व्यवस्था की गई है। जयनगर रेलवे स्टेशन पर भी सघन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है।

ट्रेनों में सघन चेकिंग अभियान

आरपीएफ प्रभारी रमेश कुमार ने बताया कि वरीय पदाधिकारी के निर्देश पर स्वतंत्रता दिवस को लेकर यहां से खुलने वाली सभी गाडिय़ों में सघन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। जयनगर से खुलने वाली शहीद एक्सप्रेस, पवन एक्सप्रेस, गंगासागर एक्सप्रेस, जयनगर-कोलकाता एक्सप्रेस, स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस सहित अन्य एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेनों में चेकिंग अभियान चलाया गया। मौके पर आरपीएफ के एएसआई राजकुमार सिंह, सिपाही रामकृष्ण राम समेत अन्य जवान उपस्थित थे।

करीब 1750 किमी लंबी खुली सीमा है, सुरक्षा एजेंसियों ने दिया सीमा पर विशेष सुरक्षा बरतने का निर्देश

रक्सौल। सुरक्षा एजेंसियों ने स्वतंत्रता दिवस को लेकर भारत-नेपाल सीमा पर अलर्ट जारी किया है। भारत विरोधी संगठन नेपाल के रास्ते देश के विभिन्न प्रदेशों में दहशत पैदा करने का प्रयास कर सकते हैं। दोनों देशों की करीब 1750 किलोमीटर लंबी खुली सीमा है। इसको लेकर इंडो-नेपाल बार्डर के प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से सुरक्षा व्यवस्था में तैनात एजेंसियों को विशेष सतर्कता बरतने का आदेश दिया गया है।

ग्रामीण रास्तों पर गश्ती

ग्रामीण रास्तों पर एसएसबी यानी सशस्त्र सीमा बल के जवान लगातार गश्त लगा रहे हैं। इसके साथ ही नेपाल एपीएफ (नेपाल आर्म्स फोर्स) के जवान आपसी समन्वय स्थापित कर संयुक्त रूप से अलग-अलग ग्रामीण रास्तों पर गश्ती करते नजर आते हैं। सीमा शुल्क कार्यालय के अधिकारी और सशस्त्र सीमा बल के जवान दिल्ली-काठमांडू को जोड़ने वाली मुख्य पथ पर वाहन जांच आए दिन कर रहे हैं। नेपाल से आने-जाने वाले लोगों पर जवान पैनी नजर रख रहे हैं।

सूचना तंत्र को करें मजबूत

सीमावर्ती अनुमंडल के रेलवे स्टेशनों और सरकारी-गैर सरकारी व प्रमुख कार्यालय की सुरक्षा व्यवस्था को सख्त कर दिया गया है। इस संबंध में प्रशिक्षु आईपीएस चंद्रप्रकाश ने बताया कि बार्डर की संवेदनशीलता को देखते हुए पुलिसकर्मियों को विशेष सतर्कता बरतने का निर्देश जारी कर दिया गया है। प्रत्येक माह मासिक बैठक में सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की जाती है। जिसकी रिपोर्ट वरीय अधिकारियों को दी जाती है। थानाध्यक्षों को निर्देश दिया गया है कि सूचना तंत्र को मजबूत करें और अन्य एजेंसियों से समन्वय स्थापित कर सुरक्षा व्यवस्था को ज्यादा बेहतर करना है।

सीमा पर हाईअलर्ट

इधर एसएसबी कमाडेंट विकास कुमार ने बताया की स्वतंत्रता दिवस को लेकर भारत-नेपाल सीमा पर हाईअलर्ट कर दिया गया है। सीमा के साथ ही पगडंडियों और नाकों पर एसएसबी व पुलिस की गश्त तेज कर दी गई है। हर वाहन और हर आने-जाने वाले की तलाशी ली जा रही है। स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर पिछले एक सप्ताह से जवान पगडंडी व नाकों पर मुस्तैद हैं।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh