समस्तीपुर, जागरण संवाददाता। समस्तीपुर पुलिस ने समस्तीपुर एवं हाजीपुर सहित कुल 3 बैंक लूट मामलों का खुलासा कर लिया है। लूटी गई राशि को भी बरामद कर लिया है। मुफस्सिल थाना क्षेत्र के विक्रमपुर बांदे स्थित केनरा बैंक में 29 अप्रैल को एवं ताजपुर थाना क्षेत्र के स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में 19 मई को हुए लूट के साथ-साथ वैशाली के हाजीपुर में हुई बैंक की लूट घटना में शामिल अपराधियों को जिला पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बैंक लूट कांडों के लिए पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लों के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया गया था। विशेष टीम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए गुरुवार को मामले का खुलासा किया। पुलिस टीम ने समस्तीपुर एवं हाजीपुर में हुए बैंक लूट कांड के मुख्य आरोपित के साथ-साथ उनके सहयोगियों को भी गिरफ्तार किया है।

घटना में शामिल मुख्य अपराधी मुजफ्फरपुर जिले के सकरा थाना के सादुल्लापुर निवासी जगरनाथ सिंह के पुत्र ओमप्रकाश को मुफस्सिल थाना क्षेत्र के पाहेपुर से हथियार के साथ गिरफ्तार किया। गिरफ्तार युवक की निशानदेही पर लूट की 17 लाख 72 हजार रुपये बरामद किये गए। जो राशि समस्तीपुर के दो सहित कुल 3 बैंकों से लूटी गई थी। उसकी निशानदेही पर बालिगांव थाना के चंपापुर निवासी विश्वनाथ दास के पुत्र राजीव उर्फ बुल्ला की भी गिरफ्तारी की गई। उसके पास से विक्रमपुर बांदे स्थित केनरा बैंक से लूटे गए रुपए भी बरामद की गई है। पूछताछ एवं जांच करते हुए पुलिस ने मुजफ्फरपुर जिला के सकरा थाना निवासी मोहम्मद लतीफ के पुत्र मो. अरमान को गिरफ्तार किया। वह ताजपुर में हुए स्टेट बैंक लूट कांड में शामिल था। जिसके पास से लूट के कुल 25 लाख 67 हजार रुपये बरामद हुए। इसमें हाजीपुर स्थित एचडीएफसी बैंक लूट के भी रुपये भी शामिल है।

 तीनों बैंकों के लूट में शामिल अन्य अपराधियों में मुजफ्फरपुर जिले के सकरा थाना के केशवपुर निवासी पप्पू सिंह का पुत्र प्रभात कुमार उर्फ गोलू , सकरा थाना निवासी मुकेश कुमार, सकरा थाना के इंद्रसेन उर्फ बुल्ला की पहचान कर ली गई है। प्रभात कुमार उर्फ गोलू के घर से भी 17 लाख 80 हजार रुपया बरामद किया गया तो इंद्रसेन उर्फ बुल्ला के घर से 27 लाख रुपया बरामद किया गया। इस प्रकार कुल 93 लाख 19 हजार पांच सौ रुपये बरामद हुए। इसमें समस्तीपुर मुफस्सिल थाना के विक्रमपुर बांदे स्थित केनरा बैंक का एक लाख दो हजार, एसबीआई ताजपुर का तीन लाख पचास हजार, एचडीएफसी बैंक हाजीपुर का 88 लाख 67 हजार पांच सौ रुपये बरामद कर लिये गए। बता दें कि इन तीनों लूटकांड में समानता पाए जाने पर वैशाली, समस्तीपुर और एसटीएफ ने संयुक्त रूप से कार्रवाई की थी।

Edited By: Murari Kumar