समस्तीपुर,[ प्रकाश कुमार]। भारतीय रेलवे ने लोगों को राष्ट्रीय एकता के सूत्रधार लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल के जीवन दर्शन से जोडऩे के लिए नई पहल की है। लौह पुरुष की 144वीं जयंती पर रेलवे ने यात्रियों को पटेल जीवन यात्रा का तोहफा दिया है। मुजफ्फरपुर-अहमदाबाद-मुजफ्फरपुर के लिए परिचालित होनेवाली ट्रेन संख्या 15269/15270 जनसाधारण एक्सप्रेस की बोगियां लौह पुरुष पटेल के जीवन से जुड़ी तस्वीरों और लेखों से सजाई गई हैं।

 राष्ट्रीय एकता के सूत्रधार और राष्ट्र के एकीकरण में सरदार पटेल के योगदान की थीम वाली विनाइल रैङ्क्षपग यानी प्लास्टिक कोटेड पेंटिंग से सुजज्जित नई एलएचबी रैक के साथ परिचालित होगी। जनसाधारण एक्सप्रेस की एलएचबी रैक में परिवर्तित की जानेवाली यह पहली रैक होगी। रेलवे को उम्मीद है कि इससे लोग यात्रा के साथ ही सरदार पटेल के विषय में विशेष जानकारी भी हासिल कर सकेंगे। 31 अक्तूबर को पटेल जीवन दर्शन के लिए ट्रेन की बोगियां तैयार की गई हैं। उनकी जयंती पर उनके जीवन दर्शन पर आधारित &ह्नह्वशह्ल;सरदार पटेल की योगदान की चित्र प्रदर्शनी का शुभारंभ किया जाएगा।

रेल के सफर में यात्री करेंगे लौह पुरुष का दर्शन

सरदार पटेल ने कहा था, मैं सरदार नहीं सेवक हूं...। उनका जन्म गुजरात के नडियाद में हुआ था। वे झवेरभाई पटेल एवं लाडबा देवी की चौथी संतान थे। सोमाभाई, नरसीभाई और विट्टलभाई उनके अग्रज थे। उनकी शिक्षा मुख्यत: स्वाध्याय से ही हुई। लंदन जाकर उन्होंने बैरिस्टर की पढाई की और वापस आकर अहमदाबाद में वकालत करने लगे। महात्मा गांधी के विचारों से प्रेरित होकर उन्होंने भारत के स्वतंत्रता आंदोलन में भाग लिया। उनके ऐसे संदेश अब आपको रेलवे के दफ्तरों में दिख रहे।

 इतना ही नहीं रेलगाडिय़ों में अब पटेल दर्शन भी कर सकेंगे। उनकी जयंती को यादगार बनाने के लिए रेलवे ने इस तरह की पहल की है। इसके तहत देशभर की ऐसी ट्रेनें जिनमें पर्यटन से जुड़े पोस्टर लगे हैं, उन्हें हटाकर लौह पुरुष की थीम आधारित पोस्टर लगाए जाएंगे। उन पोस्टरों में आप उनके क्रियाकलापों का अवलोकन कर सकेंगे। राष्ट्र के एकीकरण में सरदार पटेल के योगदान को दर्शाया गया है। ट्रेनों के प्रवेश द्वार पर ऐसी तस्वीर लगाए गए हैं।

राष्ट्र के एकीकरण में योगदान की थीम

भारतीय रेलवे ने इसकी तैयारी कुछ इस तरह की है कि लोगों को शुरू से आखिर तक सरदार पटेल के बारे में जानने का मौका मिलेगा। ट्रेन की हर बोगी पर तस्वीरें और आलेख लगाए गए हैं और वे सभी एक सीक्वेंस में है, ताकि एक कहानी की तरह पूरा जीवन वृतांत लोगों के सामने आए। इस पूरे प्रोजेक्ट की थीम होगी- राष्ट्र के एकीकरण में सरदार पटेल के योगदान। उनके पूरे जीवन की झलक इनमें होगी।

खास रहा इस ट्रेन का चयन

महात्मा गांधी के जीवन दर्शन के लिए जनसाधारण एक्सप्रेस का चयन खास वजह से किया गया। अहमदाबाद जाने के लिए जनसाधारण एक्सप्रेस सर्वाधिक लोकप्रिय ट्रेन है। यह रोज चलती है। सिर्फ यही ट्रेन पूर्व मध्य रेल के सोनपुर मंडल से अहमदाबाद के लिए परिचालित होती है। यही वजह है कि रेलवे ने इस ट्रेन का विशेष रूप से चयन किया।

इस बारे में पूर्व मध्य रेलवे के महाप्रबंधक ललित चंद्र त्रिवेदी ने कहा कि राष्ट्रीय एकता के सूत्रधार लौह पुरुष सदर वल्लभ भाई पटेल की जयंती के अवसर पर राष्ट्रीय एकता दिवस के दिन मुजफ्फरपुर व अहमदाबाद के बीच चलने वाली जनसाधारण एक्सप्रेस का एलएचबी रैक से परिचालन का शुभारंभ होगा। इसमें राष्ट्र के एकीकरण में सरदार पटेल के योगदान को दर्शाती विनाइल रैपिंग प्रदर्शित की जा रही है। 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस