दरभंगा, जासं। नगर थानाक्षेत्र में विशेष जांच दल (एसआइटी) ने छापेमारी कर तीन शातिर बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस शातिरों के पास से एक लोडेड कट्टा, पिस्टल के चार कारतूस, चाकू और चार मोबाइल को जब्त किया है। तलाशी के क्रम में ट्रक चालक से लूटे गए तीनों मोबाइल को भी बरामद कर लिया गया है। गिरफ्तार बदमाशों में नगर थानाक्षेत्र के शिवाजीनगर स्थित जीतू गाछी मोहल्ला निवासी साजन ठाकुर, शिवाजीनगर मोहल्ला के सूरज मंडल और राजा सहनी शामिल हैं।

सदर एसडीपीओ कृष्णनंदन कुमार ने बताया कि साजन शातिर बदमाशों की सूची में शामिल है। उसके खिलाफ नगर थाना में दो हत्या सहित लूट और रंगदारी की कई प्राथमिकी दर्ज है। इन दिनों यह अपने शागिर्दों की मदद से लगातार लूट की घटना को अंजाम दे रहा था। इसकी सूचना मिली। इसी बीच 27 जून की देर रात नगर थानाक्षेत्र के गुल्लोबाड़ा फल मंडी में आम लेकर आए यूपी के सहारनपुर निवासी ट्रक चालक सोनू साह, सह चालक मो. फैजान और मो. गुलजार को पिस्टल दिखाकर तीन मोबाइल और दो हजार रुपये लूट लिए। इस दौरान तीनों को चाकू से गोदकर जख्मी कर दिया था।

इस घटना को देखते हुए एसएसपी के निर्देश में एसआइटी का गठन किया गया। इस बीच सूचना मिली की सभी बदमाश शिवाजीनगर वृंदावन घाट के पास किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के लिए जुटे हैं। जहां छापेमारी कर तीनों को दबोच लिया गया। पूछताछ में तीनों ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। इधर, इस गिरोह के एक बदमाश अब भी फरार चल रहा है। बताया जाता है कि वह शुंभरपुर का निवासी है। जिसे गिरफ्तार करने के लिए पुलिस लगातार छापेमारी करने में जुटी है। छापेमारी में थानाध्यक्ष सत्येंद्र चौधरी सहित कई पुलिस पदाधिकारी शामिल थे।

किशोर अवस्था में बना अपराधी, संरक्षण गृह से चल रहा था फरार 

गिरफ्तार बदमाश साजन ठाकुर शातिर बदमाश है। बात-बात पर गोली चलाना, हत्या करना, लूट की घटना को अंजाम देना और रंगदारी मांगने का काम वह किशोर अवस्था से ही कर रहा है। पुलिस ने उसे कई बार गिरफ्तार किया। लेकिन, हर बार वह उम्र का हवाला देकर बाल सुधार गृह चला जाता था और बहुत कम समय में बाहर आकर फिर से आपराधिक घटनाओं को अंजाम देने लग जाता था। पुलिस ने थकहार उसे 24 मई 2021 को गिरफ्तार दरभंगा मंडल कारा भेज दिया। जहां उसके गंभीर अपराध देखते हुए और 16 से 18 वर्ष के बीच उम्र होने के कारण साजन को सहरसा के संरक्षण गृह सुरक्षित स्थान भेज दिया। लेकिन, वह खेलने के दौरान चहारदिवारी फांदकर फरार हो गया। इस मामले को लेकर सहरसा थाने में उसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज है। पुलिस उसे गिरफ्तार करती उससे पहले वह बालिग हो गया।

दो लोगों की हत्या मामले में है आरोपित 

गिरफ्तार साजन ठाकुर दो लोगों की हत्या मामले आरोपित है। 24 मई 2021 को वह नगर थानाक्षेत्र के रत्नोपट्टी दुर्गा स्थान मोहल्ला में बदले की भाव से शुभंकरपुर निवासी संतोष साह की गला रेतकर हत्या कर दी थी। पूछताछ में वह बताया था कि संतोष ने उसे उसके साथ दुव्र्यवहार किया था। इसका बदला लेने के उसने हत्या कर दी। पुलिस रिकार्ड अनुसार 13 मार्च 2020 को फायर‍िंग करने के मामले में साजन जेल से बाहर आते ही नौ अगस्त 2020 को वृंदावन घाट स्थित मजार के पास मुकेश कुमार नायक की हत्या कर दी थी। इस मामले में जब उसे जमानत मिला तो वह रंगदारी की मांग करने लगा। रुपये नहीं देने पर फायर‍िंग तक की। ऐसी स्थिति में संतोष साह ने साजन के साथ दुव्र्यवहार कर बाजार में उसका कद छोटा कर दिया, जो साजन को बर्दाश्त से बाहर था। यही कारण था कि साजन ने सबसे पहले संतोष के दोस्त अक्षय शर्मा से दोस्ती की। दरअसल अक्षय के साथ संतोष एक बार जेल जा चुका था। इसके बाद संतोष के रिश्तेदार बादल साह को साजन ने अपने गुट में शामिल कर लिया। इसके बाद बादल और अक्षय के माध्यम से संतोष को घर से बुलाकर ले जाने में कामयाब हो गया। इसके बाद अपने साजन अपने दोनों दोस्तों के साथ मिलकर संतोष का गला रेत दिया। यही कारण है कि किशोर न्याय बोर्ड ने साजन के गंभीर अपराध और उसके 16 से 18 वर्ष के बीच उम्र होने के कारण सभी मामलों को चिल्ड्रेन कोर्ट को सौंप दिया।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh