दरभंगा, जेएनएन। कभी-कभी अतिउत्साह में किया गया काम इंसान को जेल की कोठरी तक भी पहुंचा देता है। दरभंगा में इसका एक और उदाहरण देखने को मिला। जब एक धर्म विशेष व ग्रंथ के खिलाफ सोशल साइट पर आपत्तिजनक पोस्ट करना कुंवरपट्टी के युवक को मंहगा पड़ गया। आरोपित युवक भराठी पंचायत के कुंवरपट्टी निवासी राम प्रवेश सिंह के पुत्र अमोल कुमार सिंह राजपूत को गिरफ्तार कर मंगलवार को जेल भेज दिया गया। अब पुलिस हर स्तर से इस मामले की जांच कर रही है। इसके लिए तकनीक की विशेष मदद ली जा रही है। 

थानाध्यक्ष के बयान पर प्राथमिकी

सिमरी थाना अध्यक्ष हरिकिशोर यादव ने युवक के मोबाइल को भी जब्त कर लिया है। थानाध्यक्ष के बयान पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। उन्होंने बताया कि आरोपित युवक ने एक धर्म विशेष के खिलाफ सोशल साइट पर आपत्तिजनक पोस्ट को वायरल कर दिया था। धार्मिक उन्माद फैलाने के उद्देश्य से आपत्तिजनक पोस्ट डाल कर सांप्रदायिक हिंसा भड़काने की कोशिश की गई। युवक ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। इस मामले को लेकर एसएसपी बाबू राम ने सिटी एसपी योगेंद्र कुमार को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए है। कांड का अनुसंधानक एसआइ ब्रज बिहारी राय को बनाया गया है।

 हाल के दिनों में समाज में एक-दूसरे के प्रति विश्वास की भावना में कमी आई है। खासकर कोरोना और वह भी एक खास समुदाय के लोगों की सभा और उनके पूरे देश में फैलने की सूचना आने के बाद लोग इसको साजिश मान रहे। इससे जुड़ी छोटी से छोटी घटना को बहुत बड़ा कर प्रसारित व प्रचारित किया जा रहा है।  ऐसे में इस तरह की घटनाओं को कम करने तथा समाज में सौहार्द्र कायम रखने के लिए सख्त कदम उठाना जरूरी है। पुलिस को इस मामले की जल्द से जल्द जांच कर दोषियों को सजा दिलानी चाहिए, जिसस कोई दूसरा इस तरह की हिमाकत नहीं करे।  

 

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस