समस्तीपुर, जेएनएन। वारिसनगर थाना क्षेत्र की गोही पंचायत के देसरिया-दमदरी चौर से दो दिन पूर्व बरामद महिला के अधजले शव की पहचान अब तक नहीं हो सकी है। शव का पोस्टमार्टम कराकर पहचान के लिए सदर अस्पताल में 72 घंटे तक रखने की समय सीमा भी समाप्त हो गई है। मामले में किसी की गिरफ्तारी भी नहीं हो सकी है।

पहचान कराने की कोशिश जारी

थानाध्यक्ष प्रसुंजय कुमार वारिसनगर समेत सीमावर्ती सभी थाना क्षेत्रों में हाल में गुमशुदा महिलाओं के स्वजनों से मुलाकात कर शव की पहचान कराने की कोशिश में जुटे हैं। शुक्रवार को भी आसपास के गांवों में टेंपो से चौकीदारों द्वारा माइकिंग कराई गई। लेकिन, कोई सफलता नहीं मिली। वहीं, सदर डीएसपी प्रीतीश कुमार के नेतृत्व में कई थानाध्यक्षों की टीम गठित कर इस मामले का पदर्फाश करने की कोशिश हो रही है। थानाध्यक्ष ने कहा कि शव की शिनाख्त होते ही सच सामने आ जाएगा।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट और फॉरेंसिक टीम पर नजर

अब लोगों की निगाहें पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर टिकी हैं। समझा जाता है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद पुलिस जांच में तेजी आएगी। सदर अस्पताल के डॉक्टरों ने पोस्टमार्टम किया है। वहीं, फॉरेंसिक टीम ने भी घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच की थी। टीम यहां से नमूने भी ले गई थी। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम और फॉरेंसिक रिपोर्ट मिलने के बाद ही हत्या के कारणों का पता चलेगा।  

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस