मुजफ्फरपुर, जेएनएन। पर्यावरण संरक्षण व जल संचयन के लिए पोखर को बचाना जरूरी है। समाज के साथ सरकार हर स्तर पर पोखर व तालाब का संरक्षण कर रही है। शहर के चार पोखरों के सौंदर्यीकरण कार्य का शिलान्यास हो गया, अब समय पर सभी काम पूरे किए जाएंगे। नगर विकास व आवास मंत्री सुरेश शर्मा ने ब्रह्मपुरा पोखर के किनारे शनिवार को आयोजित सौंदर्यीकरण शिलान्यास समारोह में कहा कि इस पोखर के सौंदर्यीकरण के साथ-साथ बीच में सूर्य मंदिर भी बनेगा।

    किनारे एक गार्ड रूम रहेगा। इसी तरह महाराजी पोखर, तीन पोखरिया और साहु पोखर का भी जीर्णोद्धार कार्य शुरू होगा। पूरी पारदर्शिता से तय समय के अंदर काम पूरा होगा। पोखर बचाने के लिए दैनिक जागरण परिवार की ओर से चलाए गए 'तलाश तालाबों की अभियान' की सराहना करते हुए कहा- अभियान से लोगों के अंदर जागरूकता आई। ब्रह्मपुरा पोखर समिति के अध्यक्ष ने नगर विकास एवं आवास मंत्री के साथ निगम पार्षद गायत्री चौधरी व अन्य अतिथियों का स्वागत किया। 

इस तरह से चला अभियान

दैनिक जागरण की ओर से 'तलाश तालाबों की' अभियान चला और लोग जागरूक हुए। सभी जगह कमेटी बनाकर पोखर की सफाई में जुटे। चिकित्सक सहित समाज के अन्य सजग लोगों ने सहयोग किया। निगम क्षेत्र में तलाश तलाबों की अभियान के तहत मॉडल के रूप में ब्रह्मपुरा पोखर, महाराजी पोखर, तीन पोखरिया व साहु पोखर को शामिल किया गया। नगर विकास व आवास मंत्री की पहल से सभी के सौंदर्यीकरण की नींव पड़ी।

    पोखर के जीर्णाद्धार मेें सांसद अजय निषाद, विधायक बेबी कुमारी, विधायक केदार गुप्ता, विधायक महेश्वर यादव, पूर्व सांसद डॉ.अनिल साहनी, युवा उद्योगपति भूषण झा, वरीय शिक्षाविद राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष डॉ. भगवानलाल सहनी सहित शहर के अनेकों गण्यमान्य ने कारसेवा की। तत्कालीन प्रमंडलीय आयुक्त अतुल प्रसाद, तत्कालीन जिलाधिकारी धर्मेन्द्र सिंह, डीडीसी अरविंद कुमार वर्मा, नगर आयुक्त भी सभी जगह पर लगातार निगरानी करते रहे अभियान को गति मिली।

इन पोखरों का होगा जीर्णोद्धार

बह्मपुरा पोखर का 128.80 लाख रुपये से, महाराजी पोखर का 93.021 लाख रुपये से, तीन पोखरिया पोखर का 84.759 लाख रुपये व साहू पोखर का 105.29 लाख रुपये से जीर्णाेद्धार किया जाएगा।

 

Posted By: Ajit Kumar