मुजफ्फरपुर, जेएनएन। बीआरए बिहार विश्वविद्यालय में छात्रों की विभिन्न समस्याओं को लेकर छात्र राष्ट्रीय जनता दल ने आंदोलन का ऐलान किया है। मंगलवार को विश्वविद्यालय खुलते ही धरना होगा। प्रदेश प्रधान महासचिव चंदन यादव ने कहा है कि पार्टी की ओर से यह महाधरना होगा जिसमें पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह समेत राजद के तमाम विधायक भी छात्रों के साथ धरने पर बैठेंगे। बिहार विश्वविद्यालय में छात्र राजद की ओर से अपनी तरह का यह अलग और बड़ा कार्यक्रम हो रहा है। बिहार विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा दिलाने की मांग को लेकर राजद ने चरणबद्ध आंदोलन करने की घोषणा की है। स्नातक में प्रवेश परीक्षा न लेकर सीधे नामांकन लेने की वकालत की है। उसका कहना है कि नामांकन प्रक्रिया पहले ही काफी विलंब हो चुका है और इससे छात्रों का भविष्य अधर में पड़ गया है। परीक्षा-रिजल्ट और नामांकन में अब और विलंब उनके लिए भारी पड़ जाएगा।

ये हैं मांगें

-बिहार विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा दिया जाए।

-रिक्त पदों पर शिक्षक एवं कर्मचारी की नियुक्ति अविलंब हो।

-विश्वविद्यालय में एकेडमिक व परीक्षा कैलेंडर का अनुपालन हो।

-स्नातक में मेधा सूची के आधार पर बिना प्रवेश परीक्षा सीधे नामांकन लिया जाए।

-विश्वविद्यालय का सामने वाला प्रवेश द्वारा तुरंत खोला जाए।  

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस