मुजफ्फरपुर (जेएनएन)। सरैया थाना क्षेत्र के अम्बारा चौक पर सुबह ट्रक की चपेट में आने से साइकिल सवार दो छात्र गंभीर रूप से घायल हो गए। इलाज के लिए ले जाने के दौरान उनकी मौत रास्ते में हो गई। वहीं, दूसरे की चिकित्सा चल रही है। घटना के संबंध में स्थानीय मुखिया लखींद्र साह ने बताया है कि रेवा अनुसूचित टोला निवासी लखींद्र राम का 12वर्षीय पुत्र सूरज कुमार और हरेंद्र राम का 11 वर्षीय पुत्र अभिषेक ट्यूशन पढ़ कर साइकिल से घर लौट रहा था। घर से थोड़ी दूर पहले छपरा की ओर से आ रहे ट्रक की चपेट में आने से दोनों छात्र साइकिल समेत आ गए। हादसा देख आसपास के लोग बचाव के लिए दौड़े। किसी तरह दोनों को बाहर निकाल कर इलाज हेतु भेजा गया। वहीं, चालक व उप चालक को पकड़ पिटाई करते हुए बंधक बना लिया। साथ ही एनएच 102 को जाम कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने लोगों की पकड़ से चालक और खलासी को मुक्त कराकर अपने कब्जे में ले लिया। वहीं, ट्रक को कब्जे में ले लिया। पुलिस ने कार्रवाई तथा सीओ कौशल किशोर द्विवेदी ने उचित मुआवजा देने का आश्वासन देकर सड़क जाम समाप्त कराया। थानाध्यक्ष शंभूशरण गुप्ता ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम हेतु एसकेएमसीएच भेज दिया गया है। मुखिया ने मृतक के परिजनों को चार लाख रुपये मुआवजा देने की माग सीओ से की है।

बाइक की ठोकर से बालक की मौत

वहीं साहेबगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत सरैया स्थित मोतीपुर मार्ग में अनियंत्रित मोटर साइकिल चालक ने रामबाबू साह के चार वर्षीय पुत्र सत्यम कुमार को ठोकर मार दी जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। लोगों ने खदेड़ कर मोटरसाइकिल को घेर लिया जबकि चालक भागने सफल रहा। मृतक के चाचा श्याम कुमार ने बताया कि सत्यम अपने दरवाजे पर खेल रहा था। समय शाम 5.30 बज रहा था कि नशे की हालत बाइक चालक ने सत्यम को रौंद डाला तथा बच्चे को घसीटते हुए कुछ दूर ले गया। सत्यम की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। बाइक चालक स्थानीय अरुण पासवान भागने में सफल रहा जबकि लोगों ने उसकी मोटरसाइकिल को घेर लिया। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंच कर शव को कब्जे में लेकर कार्रवाई प्रारंभ कर दी।

Posted By: Jagran