मुजफ्फरपुर : औराई थाना क्षेत्र की सरहंचिया पंचायत के हंसवारा रामजानकी मंदिर से बुधवार की रात चोरी की गई माता सीता की मूíत मधुबन प्रताप चौक के समीप हल्दी के खेत से शुक्रवार की सुबह बरामद कर ली गई। शौच गई एक महिला ने मूíत देख शोर मचाया तो देखते ही देखते हंसवारा ,मधुबन प्रताप, पटोरी, महुआरा से सैकड़ों लोग वहां पहुंच गए। ग्रामीण रघुनंदन मिश्र, सभापति मिश्र, रविंद्र मिश्र पुजारी रामप्रवेश मिश्र, रोहित मिश्रा, विपिन मिश्रा, मनीष मिश्रा, राहुल मिश्रा, राजाबाबू मिश्रा, राहुल मंडल, कुमार गौरव, रौशन मिश्रा, पुष्पवंत कुमार ने बताया कि बुधवार की रात अज्ञात चोरों ने मा सीता की मूíत चोरी कर ली थी। अष्टधातु निर्मित करीब डेढ़ सौ वर्ष पुरानी 10 किलो की मूíत थी। वहीं, लक्ष्मणजी की मूíत मंदिर के पीछे फेंकी हुई मिली थी। हालाकि इस दौरान चोरों ने चादी का मुकुट व अन्य मूíत को नहीं उठाया था। मात्र सीताजी की मूíत चोरी हुई थी जिसमें ग्रामीणों व पुलिस दोनों मिलकर दबिश बनाते हुए गाव के एक युवक को पूछताछ के लिए उठाया था और कई अन्य पर पैनी नजर डालते हुए कार्रवाई की बात कही थी। थानाध्यक्ष राजेश कुमार ने बताया कि उक्त युवक गलत प्रवृत्ति का नहीं है, इसलिए ग्रामीणों की माग पर उसे छोड़ दिया गया। उसे पूछताछ के लिए लाया गया था। दोषियों पर पैनी नजर रखते हुए अग्रेतर कार्रवाई की जा रही है। मूíत बरामदगी के बाद ग्रामीणों ने औराई थाने पहुंचकर मूíत को जमा करा दिया। इस संदर्भ में अज्ञात के विरुद्ध मामला दर्ज कराया गया था। मूíत मिलने पर ग्रामीणों में हर्ष है। पुजारी समेत अन्य लोगों ने बताया कि कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद एक तिथि तय कर माता जानकी की पुन: प्राण प्रतिष्ठा पूजनोत्सव के साथ की जाएगी।

Edited By: Jagran