मुजफ्फरपुर, जेएनएन। दो माह छह दिन बाद मुजफ्फरपुर से आनंद विहार के बीच चलने वाली सप्तक्रांति एक्सप्रेस के नाम पर 02557 स्पेशल ट्रेन सोमवार को जंक्शन से रवाना हुई। इससे स्टेशन पर यात्रियों की चहल-पहल शुरू हो गई। सुबह 11:35 बजे ट्रेन से एसी, स्लीपर व जनरल कोच मिलाकर 400 यात्रियों को रवाना किया गया। जनरल कोच में मोबाइल पर जनरल टिकट लेकर मोतिहारी, मेहसी, मोतीपुर नरकटियांगज व छोटे स्टेशन जाने वाली यात्रियों ने सफर किया।

 इससे पहले यूटीएस काउंटर के सामने वाले हॉल में ट्रेन से सफर करने वाले यात्रियों की शारीरिक दूरी बनाकर गोल घेरे खड़ा करके कतार लगाई गई। एक-एक करके यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई। उनके कंफर्म टिकट की जांच की गई। इसके बाद यात्रियों को प्लेटफॉर्म पर जाने की अनुमति दी गई। यात्रियों के साथ आने वाले स्वजनों को प्लेटफॉर्म पर प्रवेश करने से रोक दिया गया। उन्हें गेट से ही वापस कर दिया गया। यात्री अपना सामान लेकर बोगी के पास पहुंचे।

 वहां मौजूद टीटी ने टिकट जांच कर यात्रियों को शारीरिक दूरी का पालन कराते हुए सीट पर बैठाया। यात्रियों से रेलवे बोर्ड की गाइडलाइन का पालन करने का आग्रह किया गया। स्टेशन अधीक्षक प्रियदर्शी राजीव ने कहा कि रेलवे बोर्ड की गाइडलाइन के अनुसार यात्रियों को स्टेशन पर अनुमति मिली है। सभी यात्रियों को बेहतर सुविधा दी गई। ट्रेन निर्धारित समय से रवाना की गई। मालूम हो कि लॉकडाउन के चलते 24 मार्च से यात्री ट्रेनों का परिचालन बंद था।  

रेलकर्मियों ने लोको पायलट को माला पहनाकर किया रवाना

क्रू लॉबी कार्यालय में कार्यरत कर्मियों ने आनंद विहार जाने वाली स्पेशल ट्रेन के इंजन पर तैनात लोको पायलट मनोज कुमार मिश्रा और गार्ड दशरथ राम को माला पहनाया। इसके बाद वे यात्रियों से भरी स्पेशल ट्रेन को लेकर आनंद विहार के लिए रवाना हुए। कर्मियों में काफी उत्साह दिखा। कर्मियों ने कहा कि श्रमिक ट्रेन चलाते-चलाते परेशान हो गए। 

ट्रेन में सफाईकर्मियों की तैनाती

रास्ते में स्पेशल ट्रेन की एसी, स्लीपर व जनरल बोगी में सफाई करने के लिए छह सफाईकर्मियों की तैनाती की गई। सभी कर्मचारी रास्ते में बोगी की सफाई करते रहेंगे। कोचिंग डिपो के अधिकारी ने कहा कि ओबीएचएस का नया टेंडर हुआ है। इसके तहत ट्रेन में सफाईकर्मियों को तैनात कर भेजा गया है। 

पेंट्रीकार में नहीं बना भोजन, बिके पैक खाद्य पदार्थ

आनंद विहार जाने वाली स्पेशल ट्रेन की पेंट्रीकार में चूल्हा नहीं जलाया गया। इससे भोजन तैयार नहीं किया गया। इसमें पैक वाले खाद्य पदार्थ की बिक्री हुई। आइआरसीटीसी के पदाधिकारियों ने पेंट्रीकार में व्यवस्था की जांच की और रास्ते में सभी बोगियों में यात्रियों को बेहतर सुविधा देने की सलाह दी। 

ट्रेन में जीआरपी व आरपीएफ जवान तैनात

सुरक्षा को लेकर आनंद विहार जाने वाली स्पेशल ट्रेन में रेल सिपाहियों व आरपीएफ जवानों की टीम तैनात की गई। रेल थानाध्यक्ष नंद किशोर सिंह ने कहा कि स्पेशल ट्रेन पर एक पदाधिकारी के साथ चार सिपाहियों का गश्ती दल तैनात कर भेजा गया है। 

घर से भोजन व बेडरोल लाए यात्री

आनंद विहार जाने वाली स्पेशल ट्रेन से सफर करने वाले यात्रियों ने घर से भोजन का पैकेट, बेडरोल लेकर सफर करने के लिए जंक्शन पर पहुंचे। इस दौरान बुजुर्ग, बच्चे भी उत्साहित दिखे। सोमवार सुबह 10.30 बजे यार्ड से सैनिटाइज होकर प्लेटफॉर्म संख्या तीन पर स्पेशल ट्रेन आकर लगी। प्लेटफॉर्म पर यात्रियों को अनुमति मिलने के बाद एसी बोगी में यात्री पहुंचे। अपनी सीट पर साथ लाए तकिया, कंबल, चादर बिछाकर बैठे। प्लेटफॉर्म पर कई यात्रियों ने पानी की बोतल भी नहीं खरीदी। यात्रियों ने कहा कि पेंट्रीकार के भरोसे नहीं हैं। सफर के लिए घर से नाश्ता व भोजन बनाकर लाए हैं। 

मुजफ्फरपुर से विभिन्न ट्रेनों में 718 लोगों ने किया सफर

विभिन्न ट्रेनों के एसी, स्लीपर व जनरल बोगी में सोमवार को 718 लोगों ने आनंद विहार व नई दिल्ली के लिए सफर किया। इसमें आनंद विहार जाने वाली 02557 स्पेशल टे्रन के एसी, स्लीपर व जनरल कोच में 400, दरभंगा से चलने वाली बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस के नाम पर चलने वाली 02565 स्पेशल ट्रेन के एसी, स्लीपर व जनरल कोच में 218 और सहरसा से चलने वाली वैशाली एक्सपे्रस के नाम पर 02553 स्पेशल ट्रेन में एसी व स्लीपर में 100 यात्री मुजफ्फरपुर से रवाना हुए। जंक्शन से सोनपुर मंडल को ब्योरा भेजा गया है। पूर्व मध्य रेलवे जनसंपर्क अधिकारी ने कहा कि धीरे-धीरे यात्रियों की संख्या बढऩे की उम्मीद है।

Posted By: Murari Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस