सीतामढ़ी, जागरण संवाददाता। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को उप विकास आयुक्त व डीआरडीए के निदेशक से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की और अधिकारियों को कहा कि लॉकडाउन की सख्ती के दौरान कहीं किसी बेरोजगार व जरूरतमंद को कोई दिक्कत न हो इसका हर हाल में ध्यान रखा जाए। समाहरणालय स्थित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कक्ष से अधिकारी द्वय मुख्यमंत्री से मुखातिब थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि इच्छुक सभी लोगों को रोजगार उपलबध कराने के लिए तत्परता से काम करें। सबको रोजगार मिले यह सुनिश्चित करना है, कोई मजदूर काम से वंचित न रहे। ग्रामीण इलाकों के साथ-साथ शहरी क्षेत्रों में भी गरीब लोगों को काम मिले, ताकि उन्हें किसी प्रकार की असुविधा न हो। श्रमिकों का पारिश्रमिक ससमय उपलब्ध कराया जाए। सात निश्चय पार्ट-2 एवं जल-जीवन-हरियाली अभियान के साथ-साथ अन्य कई सरकारी योजनाओं के तहत चलाए जा रहे निर्माण कार्यों में भी अधिक से अधिक लोगों को रोजगार उपलब्ध कराएं। गरीब, निर्धन एवं असहायों के लिए सामुदायिक किचन का सुचारू रूप से संचालन कराएं ताकि उन्हें किसी प्रकार की असुविधा न हो। माइकिंग के द्वारा गांव-गांव तक रोजगार की उपलब्धता को लेकर लोगों को जानकारी दें।