सीतामढ़ी, जागरण संवाददाता। पूर्व सांसद व राजद के वरिष्ठ नेता अर्जुन राय कोरोना से जुझते हुए मौत को मात देने के बाद इस महामारी से जूझते लोगों की जिंदगी बचाने की ठानी है। होमआइसोलेशन से बाहर निकलते ही सीधे जनता के बीच पहुंच गए। मंगलवार को उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस बुलाई और कोरोना से जिंदगी की जंग लड़ते हुए किस तरह उबरे हैं, उसकी जानकारी दी और कहा कि इस महामारी ने जिंदगी का फलसफा समझा दिया है। पिछले माह के 18-19 को उनकी कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई। होम आइसोलेशन में रहते हुए टेली कंसल्टेंसी के जरिये डॉक्टरों से परामर्श व कोविड गाइडलाइनका पालन करते हुए कोरोना को परास्त करने का काम किया। उन्होंने कहा कि कोरोना से जूझ रहे लोगों की मदद में हर मुमकिन कदम उनके द्वारा उठाया जाएगा।

 मरीजों की जांच से लेकर उनके इलाज-बात तक और घर की जरूरतों को पूरा करने तक में अपना हर संभव सहयोग देंगे। पूर्व सांसद ने जब यह एलान किया तब उनके साथ बाजपट्टी के विधायक मुकेश कुमार यादव, सीतामढ़ी के पूर्व विधायक सुनील कुशवाहा, राजद जिलाध्यक्ष मोहम्मद शफीक खान, युवा राजद के प्रदेश उपाध्यक्ष मोहम्मद जलालुद्दीन खान, उपेंद्र विद्रोही, पंकज कुमार, पप्पू गणेश गुप्ता, डॉ. शैलेंद्र किशोर कुशवाहा, पंकज ङ्क्षसह, अरङ्क्षवद मंडल, एजाज अहमद, मो. नसीब सहित दर्जनों की संख्या में लोग मौजूद थे। 

हेल्पलाइन नंबर जारी कर मदद की पेशकश की

पूर्व सांसद लालू प्रसाद के कार्यकाल में मंत्री भी रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजनीति में लंबा वक्त गुजारने के बाद अब से अंतिम क्षण तक जनता की सेवा ही मेरे लिए सर्वोपरि रहेगी। उन्होंने कहा कि हमारी सभी सेवा बिल्कुल मुफ्त है। किसी को कहीं कोई खर्च नहीं करना है। बस एक फोन कॉल भर करिए सभी सुविधा और सहूलियत घर तक पहुंचने लगेगी। केवल उनको फोन करना है। हमारे लोग उनसे संपर्क कर लेंगे और जिस तरह से जिनको मदद चाहिए वह की जाएगी। उन्होंने अपना हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है जो इस प्रकार है- 9973024437/ 9471082823/9470226770/8169794500/9113397399। उन्होंने बताया कि डॉक्टर जितनी दवा लिखेंगे वो देंगे। जितनी जरूरत हो, जहां पर हो, गांव से लेकर शहर तक हर लाचार-बीमार लोगों की मदद होगी।

 मुजफ्फरपुर हो या पटना जहां के बड़े-बड़े डॉक्टर्स होंगे कोरोना स्पेशलिस्ट उनसे टेली कंसल्टेंसी के जरिये मरीज को उचित परामर्श दिलाएंगे। मास्क, सैनिटाइजर बड़े पैमाने पर लोगों के बीच पहुंचाएंगे। जरूरतमंदों को ऑक्सीजन गैस सिलेंडर पर्याप्त दिलाएंगे। एंबुलेंस की सुविधा भी मुफ्त देंगे। एक एंबुलेंस की व्यवस्थाा करके इसी काम के लिए रखी गई है। मरीज अगर अपने घर पर है और उसको बाहर जहां कही भी इलाज के लिए भर्ती होना हो वहां तक पहुंचवाएंगे। ऑक्सीजन सिलेंडर की किल्लत के सवाल पर उन्होंने कहा कि उनके पास 10-15 सिलेंडर पहुंच चुका है और पूरे बिहार में जहां से भी और अधिक सिलेंडर मिल जाएगा उसका बंदोबस्त कल परसो तक कर लिया जाएगा।