मुजफ्फरपुर, जागरण संवाददाता। जनकपुर धाम, पुरौनी, जानकारी मंदिर दर्शन कर श्रीरामायण यात्रा भारत गौरव पर्यटक स्पेशल ट्रेन से वाराणसी जा रहे श्रद्धालुओं से दैनिक जागरण ने जब बात की तो उन्होंने कहा कि माता जानकी के दर्शन कर धन्य हो गए। श्रीरामायण यात्रा पर निकले जोधपुर के श्रद्धालु व्यवसायी अमित कुमार व उनकी पत्नी माधुरी देवी ने कहा कि माता जानकी के अलौकिक दर्शन और जगह-जगह सेना के जवानों का स्वागत जीवन में कभी भूल नहीं पाऊंगी। कहा कि रोज सुबह चार बजे उठकर रामायण पढ़ता हूं। मोबाइल पर कुछ काम कर रहे थे इसी बीच यूट््यूब पर भारत गौरव पर्यटक स्पेशल ट्रेन से श्रीरामायण यात्रा की जानकारी मिली। तुरंत टिकट बुक कराया। दिल्ली सफदरजंग स्टेशन से गाड़ी पकड़ी। वहीं से स्वागत शुरू हो गया। अयोध्या में राम दरबार का दर्शन कर धन्य हो गए। नेपाल के बार्डर पर जब गाड़ी पहुंची, वहां सेना और पुलिस के जवानों ने जो स्वागत किया। वह मेरे और सभी श्रद्धालुओं ने कभी सोचा भी नहीं था। 

जीवन का एक अलग ही आनंद

जनकपुर धाम में दर्शन के दौरान लोगों ने जो स्वागत किया वह जीवन का एक अलग ही आनंद है। लोगों ने पुष्पों की वर्षा कर स्वागत किया। कहने लगे ननिहाल आए हो। जय श्रीराम से पूरा जनकपुर गूंज उठा। ऐसा लग रहा था कि भगवान राम की पूरी बारात सजी हो। जगह-जगह इतना स्वागत हुआ कि मंदिर पहुंचने में एक घंटा लग गया। उन्होंने कहा कि माता जानकी के दर्शन कर धन्य हो गए।

मुजफ्फरपुर जंक्शन पर श्रद्धालुओं का हुआ भव्य स्वागत

श्रीरामायण यात्रा पर निकली भारत गौरव पर्यटक स्पेशल ट्रेन भारी सुरक्षा के बीच जनकपुर धाम नेपाल से लौटने के बाद शुक्रवार की रात मुजफ्फरपुर जंक्शन पहुंची। यहां सुरक्षा के भारी इंतजाम किए गए थे। पूर्व मध्य रेल क्षेत्र में यह ट्रेन जहां से गुजरी सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए। सोनपुर रेलमंडल क्षेत्र में गुजरने पर आरपीएफ-जीआरपी अलर्ट रही। सुरक्षा का जायजा लेने के लिए सोनपुर रेलमंडल के सीनियर कमांडेंट आरपीएफ, शिव कृष्णन भी जंक्शन पहुंचे। मुजफ्फरपुर जंक्शन से खुलने के बाद यह ट्रेन हाजीपुर, पाटलिपुत्र स्टेशन होकर बक्सर के लिए रवाना हो गई। भारत गौरव पर्यटक स्पेशल ट्रेन के टूर मैनेजर विभोर शर्मा ने बताया कि जनकपुर धाम, धनुषा, पुनौरा धाम, जानकारी मंदिर आदि धार्मिक स्थलों का दर्शन कराया गया। इससे श्रद्धालुओं में खुशी का माहौल है।

भारत गौरव पर्यटक ट्रेन की 25 किलोमीटर आगे चल रही थी पायलेटिंग

सुरक्षा को लेकर भारत गौरव पर्यटक स्पेशल ट्रेन के 25 किलोमीटर आगे-आगे पायलेटिंग कराई गई। ट्रेन के पीछे से पुलिस फोर्स के साथ पायलेटिंग हुई। जहां-जहां से गौरव भारत ट्रेन गुजर रही थी वहां पर पुलिस पूरी तरह चौकसी बरती गई।

दरभंगा में किया मेंटीनेंस

जनपुकर धाम में दर्शन के बाद पर्यटक श्रद्धालुओं को 13 लग्जरी गाडिय़ों में भरकर नेपाल में कई धार्मिक स्थलों पर घुमाते हुए सीतामढ़ी लाया गया। इधर भारत गौरव पर्यटक ट्रेन को नेपाल से खाली दरभंगा लाया गया। वहां सभी डिब्बों की जांच कर मेंटीनेंस किया गया। उसके बाद सीतामढ़ी जंक्शन लाया गया। सीतामढ़ी आने के बाद श्रद्धालुओं को जानकी मंदिर और पुरौना धाम में दर्शन कराकर माता सीता के बारे में जानकारी दी गई।

जनकपुर धाम और माता सीता के दर्शन कर धन्य हो गए श्रद्धालु

जनकपुर धाम और सीतामढ़ी पुनौरा धाम, जानकी मंदिर में दर्शन कर लौट रहे श्रद्धालुओं से जब दैनिक जागरण ने बात की तो श्रद्धालुओं ने कहा कि माता सीता के दर्शन पाकर धन्य हो गए। धालु विश्वनाथ चौधरी व उनकी पत्नी पुष्पा चौधरी ने कहा कि यहां आकर अलौकिक आनंद मिला। उसके बाद सभी सीतामढ़ी जंक्शन पहुंचे। वहां से सभी ने भोजन किया। इस बीच रात 10 बजे पर्यटक ट्रेन सीतमढ़ी से मुजफ्फरपुर पहुंची। यहां ट्रेन का इंजन घुमाया गया। उसके बाद ट्रेन बक्सर के लिए रवाना हो गई।

 

Edited By: Ajit Kumar