मुजफ्फरपुर : जिले के बीबीगंज गोविदपुरी ओम कॉलोनी में रह रहे संजय कुमार के पुत्र शिवांश ने सेना में लेफ्टिनेंट बन सबका मान बढ़ाया है। पुणे में पासिग आउट परेड के बाद शिवांश ने लेफ्टिनेंट के रूप में योगदान दिया। उनके पिता संजय कुमार ने बताया कि मूल रूप से वे मोतीपुर प्रखंड के नरियार के निवासी हैं। शिवांश छठी कक्षा से सैनिक स्कूल का छात्र रहा है। इसके बाद एनडीए की परीक्षा उत्तीर्ण की। वहीं 12वीं में प्राप्त अंकों के आधार पर शिवांश को एसएसबी में बुलाया गया। टेक्निकल एंट्री सिस्टम में उत्तीर्ण होने के बाद एक वर्ष शिवांश का प्रशिक्षण ओटीए गया में हुआ। उसके बाद शिवांश को कॉलेज ऑफ मिलिट्री इंजीनियरिग पुणे भेजा गया। तीन वर्ष का प्रशिक्षण पूरा होने के बाद पुणे में पासिग आउट परेड में शिवांश को लेफ्टिनेंट के रूप में योगदान कराया गया।

मारवाड़ी युवा मंच के शिविर में लोगों ने किया रक्तदान

मारवाड़ी युवा मंच द्वारा अखिल भारतीय मारवाड़ी युवा मंच के पूर्व अध्यक्ष पवन सिकरिया की स्मृति में केजरीवाल हॉस्पिटल में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में दर्जनों लोगों ने रक्तदान किया। मौके पर युवा मंच के अध्यक्ष राहुल नथानी, सचिव वरुण अग्रवाल, आलोक मखरिया, सूरज कंदोई, अमित खेमका, सुमित चमडिया,राजू अग्रवाल,संजय खेतान, राहुल केजरीवाल, राजीव नथानी, आयुष अग्रवाल, संजय जगनानी, विकास मारोदिया आदि मुख्य रूप से मौजूद थे।

मोद मंदिर के महंत का निधन

कटरा प्रखंड के खंगुरा स्थित मोद मंदिर के महंत सिया रसिक शरण महाराज का रविवार को निधन हो गया। वे 92 वर्ष के थे तथा 45 वर्षो से मोद मंदिर के संचालक थे। उनके निधन की खबर सुनकर श्रद्धालुओं में शोक की लहर फैल गई तथा अंतिम दर्शन को लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। संचालन समिति के सदस्य रतिकांत चौधरी ने बताया कि वे पिछले कुछ दिनों से बीमार थे। उनके निधन पर पूर्व प्रमुख नूनू चौधरी, रणजीत गुप्ता, मनोज मिश्र, सहज नारायण झा, रमेश कुमार, चंदन चौधरी आदि ने शोक व्यकत किया है।

Edited By: Jagran