शिवहर, जागरण संवाददाता। कोरोना संक्रमण के बीच अन्य दूसरी स्वास्थ्य सेवाओं पर कोई असर नहीं हो इसका पूरा ख्याल रखा जा रहा। तरियानी पीएचसी में संक्रमण के विस्तार को रोकने के साथ नियमित प्रसव, टीकाकरण और ओपीडी जैसी सेवा चालू है। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. दयानंद मल्लिक ने बताया कोरोना की  विषम परिस्थितियों में भी अन्य स्वास्थ्य सेवाओं पर कोई असर नहीं हो इसका भी ध्यान रखा जा रहा है। अस्पताल के लेबर रूम के साथ ही पूरे अस्पताल में विशेष साफ- सफाई, शारीरिक दूरी के साथ- साथ मास्क और सैनिटाइजर का उपयोग अनिवार्य रूप से किया जा रहा है। संक्रमण की दूसरी लहर के बीच पीएचसी, तरियानी में सभी कर्मियों और मरीजों  को मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। 

अपने पैर का चोट दिखाने आए संजय कुमार ने बताया यहां डाक्टर ने जांच की और दवा भी मिला। काउंटर पर जाकर परिवार नियोजन करवाने से संबंधित जानकारी ली। उन्होंने बताया अभी सभी स्वास्थ्य की सुविधाएं सदर अस्पताल में कोरोना गाइडलाइन के फॉलो करते हुए दी जा रही है।

तरियानी पीएचसी में सामान्य प्रसव की सारी सुविधाएं मौजूद हैं। 24  घंटे एंबुलेंस, डॉक्टर व नर्स की मौजूदगी रहती है। जितना ध्यान कोरोना संक्रमण के बचाव में दिया जा है, उतना ही ध्यान अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं पर दिया जा रहा। यहां प्रसव पूर्व जांच (एएनसी) की भी व्यवस्था है।  गर्भवती महिलाओं और बच्चों का नियमित टीकाकरण भी जारी है। एक तरफ कोरोना से बचाने के लिए टीकाकरण किया जा रहा है। वहीं नियमित रूप पड़ने वाला टीका भी दिया जा रहा है। उन्होंने बताया नियमित टीकाकरण (रूटीन इम्युनाइजेशन) में जितने टीके हैं, सब उपलब्ध हैं। हालांकि कोरोना वायरस की वजह से टीकाकरण के दौरान कुछ जरूरी सावधानियों का ध्यान रखा जा रहा है।

डॉ. दयानंद मल्लिक ने बताया यहां प्रसव कराने आई महिला और उसके परिवार वालों को परिवार नियोजन के स्थायी और अस्थायी साधनों के बारे में बताया जाता है। इच्छुक लाभार्थियों को इसका लाभ भी दिया जाता है। अस्पताल में इसका अलग से कक्ष बनाया गया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप