पूर्वी चंपारण, जेएनएन। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहनवाज हुसैन ने कहा कि अनुच्छेद- 370 और धारा -35 ए को हटाने के बाद देश में एक समान कानून कायम हुआ है। इससे कुछ लोगों को दुख है। इसे हिंदू मुसलमान का मुद्दा बनाने का प्रयास किया जा रहा है। भारत के कानून के हिसाब से इसे हटाना ठीक था।

सवालिया लहजे में कहा कि क्या धारा -35 ए इस्लाम के उसूलों के खिलाफ नहीं था? क्या मुस्लिम लड़कियों की शादी के बाद उसका हक समाप्त करने का प्रावधान जायज था? सरिया के हिसाब से यह गलत था, जिसे पीएम मोदी ने ठीक किया है। 35 ए के हटने के बाद से कश्मीर की लड़कियों को देश के अन्य क्षेत्रों की लड़कियों की तरह अधिकार मिला है। पीएम मोदी ने नेहरू की गलतियों को इतने वर्षों बाद ठीक कर देश का सम्मान बढ़ाया है।

वे मोतिहारी में एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने के बाद गुरुवार को विधान पार्षद बबलू गुप्ता के आवास पर पत्रकारों से बात कर रहे थे।

 कहा कि पीएम मोदी के यूएस दौरे पर भारत के इतिहास में पहली बार ऐसा होगा कि अमेरिकी राष्ट्रपति व भारत के प्रधानमंत्री भारतीयों को संबोधित करेंगे। नरेंद्र मोदी बोलेंगे तो पूरी दुनिया सुनेगी। सबसे अधिक अगर कोई परेशान है तो वह पाक के पीएम इमरान खान हैं। लेकिन, इससें राहुल गांधी के दुखी होने की बात समझ में नहीं आती है। राहुल गांधी जिस नीति पर चल रहे हैं, उससे कांग्रेस जीरो की ओर बढ़ रही है। कांग्रेस अपनी गलतियों से सीखने को तैयार नहीं है। ऐसी स्थिति रही तो दिल्ली विधानसभा की तरह पूरे देश में कांग्रेस जीरो की भूमिका में हो जाएगी।

कहा कि वैसे राजनेता व दल जिन्होंने तीन तलाक, 370 व 35ए हटाने का विरोध किया है, उसे जनता ने चिह्नित कर लिया है। आने वाले समय में जनता इसका जवाब देगी।

 देश में आर्थिक मंदी पर बोलते हुए कहा कि पूरी दुनिया में इसका असर है। सऊदी के तेल की टंकी में आग लगेगी तो इसका धुआं यहां तक जरूर आएगा। बावजूद इसके भारत सरकार आर्थिक मंदी से निपटने के लिए कारगर कदम उठा रही है।

 एनआरसी को लेकर कहा कि यह कोई एक राज्य का मुद्दा नहीं है। यह समस्या पूरे देश की है। घुसपैठियों को अब देश बर्दाश्त नहीं करेगा। तीन राज्यों में हो रहे चुनाव पीएम मोदी के नाम पर लड़े जाएंगे। बिहार के चुनाव में अभी वक्त है। यहां बेहतर तरीके से सरकार चल रही है।  

Posted By: Ajit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप