मुजफ्फरपुर :साहेबगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत वासुदेवपुर वृत गाव में तेतरी देवी के नशेड़ी पति दुखन राम ने तेतरी को संतान नहीं होने का आरोप लगाते हुए दूसरी शादी रचा ली। जब उसने इसका विरोध किया तो पति ने उससे छुटकारा पाने की नीयत से गाव के मुन्नीलाल राय से चार लाख रुपये में अपना घर बेच दिया। अभी वह अपनी नई पत्‍‌नी के साथ दूसरी जगह रहता है। उसने तेतरी का खाना-खर्चा भी बंद कर दिया है जिससे उसके समक्ष जीवन-यापन की समस्या उत्पन्न हो गई है। बता दें कि पीड़िता अनुसूचित जाति की है जिसका घर आवास योजना की सरकारी राशि से वर्ष 2016-17 में बनाया गया था। तबसे वह इसी आवास में रहती थी। अब पति द्वारा घर बेचने के बाद खरीदार घर खाली करने हेतु निरंतर धमकी दे रहा है। यदि खरीदार ने जबरदस्ती की तो वह सड़क पर आ जाएगी। पीड़िता ने डीएम को आवेदन देकर घर केवाला को खारिज करते हुए नशेड़ी पति तथा खरीदार पर कार्रवाई की माग की है। उधर, सीओ राकेश कुमार ने बताया कि उक्त जमीन का दाखिल-खारिज नहीं किया जाएगा।

दहेज के लिए विवाहिता ने कीे प्रताड़ना की शिकायत

पारू थाना क्षेत्र के गाढ़ा बहराम गाव में दहेज में पांच लाख रुपये नहीं देने पर नवविवाहिता के साथ पति और सास द्वारा मारपीट कर प्रताड़ित करने का मामला प्रकाश में आया है। पीड़िता ने पति- सास समेत चार लोगों के विरुद्ध बुधवार को थाने शिकायत दर्ज कराई है। पीड़िता पूजा कुमारी ने बताया कि उसकी शादी 30 नवंबर 2020 को गाढ़ा बहराम निवासी रविशकर कुमार राय से हुई थी। शादी के वक्त मेरे माता-पिता ने उपहार स्वरूप बाइक, तीन लाख रुपये नकद समेत कई सामान दिए थे। इसके बाद भी पति रविशकर और सास गीता देवी चारपहिया वाहन खरीदने के लिए मायके से पांच लाख रुपये लाने के लिए बार-बार प्रताड़ित कर मारपीट करते हैं। पुलिस मामले की जाच कर रही है।

Edited By: Jagran