मुजफ्फरपुर, जेएनएन। जिला सरैया प्रखंड के सरैया पंचायत में नल जल समेत विभिन्न योजनाओं में व्यापक भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है। कमीशन की राशि आरटीजीएस के माध्यम से बैंक खाते में स्थानांतरित हुई है। एसडीओ (पश्चिमी) की जांच रिपोर्ट में उक्त बातें सामने आई हैं।

 उन्होंने भ्रष्टाचार में संलिप्त ग्राम पंचायत राज सरैया के मुखिया मनोज पासवान, उप मुखिया सह वार्ड सदस्य जमील अख्तर, वार्ड दो की सदस्य नीतू, वार्ड संख्या नौ की रंभा देवी के विरुद्ध विधि सम्मत कार्रवाई की अनुशंसा की है। शुभ लक्ष्मी इंटरप्राइजेज एवं शिवा इंटरप्राइजेज को काली सूची में डालने के लिए कहा है। दोनों एजेंसी से भविष्य में कोई भी सरकारी कार्य नहीं लेने और नल जल योजना की विस्तृत पैमाने पर जांच कराने की भी अनुशंसा की है।

  रिपोर्ट में एसडीओ (पश्चिमी) ने कहा है कि दस्तावेजों के अवलोकन एवं जांच में मिले तथ्यों से मुखिया के विरुद्ध नल जल योजना में कमीशन की राशि आरटीजीएस के माध्यम से अपने खाता में स्थानांतरित कराने के आरोप की पुष्टि हुई है। मामले में परिवादी उप मुखिया जमील अख्तर, वार्ड सदस्य नीतू, रंभा देवी ने लगाए गए आरोपों से इन्कार कर दिया। इस कारण इसमें मुखिया मनोज पासवान के साथ भ्रष्टाचार में इनकी संलिप्तता प्रदर्शित होती है।  

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस