मधुबनी, जागरण संवाददाता। खिरहर थाना क्षेत्र के खिरहर धरोहर नाथ महादेव मंदिर परिसर में मंगलवार की रात दो साधुओं की निर्मम हत्या कर दी गई। दोनों मृत साधुओं की पहचान बासोपट्टी थाना क्षेत्र के सिरियापुर गांव निवासी 60 वर्षीय हीरा दास व भगवानपुर गांव निवासी 40 वर्षीय आनन्द मिश्र के रुप में की गई है। मंगलवार की रात करीब 12 बजे अज्ञात अपराधियों ने मंदिर में सो रहे दोनों साधु को कुदाल से काटकर सर धड़ से अलग कर दिया। इसके बाद बगल के भूसा घर में कपड़ा से लपेट कर दोनों साधुओं के सिरकटी धड़ को छुपा दिया। वहीं एक साधु के सिर को भूसा में छुपा दिया। जबकि दूसरे साधु के सिर को बगल के चारदीवारी के समीप गड्ढा में रखकर ढंक दिया।

इस घटना की सूचना पुलिस को बगल के कमरे देख रहे पुजारी नारायण मुखिया ने दी। सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। काफी मशक्कत के बाद शव को ढूंढा गया। जिसे पोस्टमार्टम के लिए भेजकर पुलिस जांच में जुट गई। पुजारी नारायण मुखिया के बयान पर पुलिस ने दीपक चौधरी के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज की है। दीपक चौधरी के घर से घटना में प्रयुक्त कुदाल बरामद किया है। बरामद कुदाल खून लगा हुआ है। इसकी पुष्टि खिरहर थानाध्यक्ष अंजेश कुमार ने की है। बहरहाल एक साथ कुदाल से सिर काटकर दो साधुओं की हत्या से सनसनी फ़ैल गई है। लोगों में आक्रोश व दहशत है। घटना के कारण का पता नहीं चला है। पुलिस घटना के कारण पता करने एवं हत्यारा को गिरफ्तार करने में जुट गई है।

 घटनास्थल पर जाकर खिरहर थानाध्यक्ष अंजेश कुमार, साहरघाट थानाध्यक्ष सुरेंद्र पासवान, अरेर थानाध्यक्ष राजकिशोर कुमार सहित अन्य पुलिस पदाधिकारी मामले की जांच की। थानाध्यक्ष अंजेश कुमार ने बताया कि घटना दुखद है। जांच चल रही है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप