समस्तीपुर, जासं। बिहार के समस्तीपुर, पश्‍चिम चंपारण सहित उत्तर बिहार के तमाम छोटे-बड़े शहरों व ग्रामीण इलाकों में पुतला दहन की तैयारी है। समस्तीपुर में दशहरा के अवसर पर बुधवार को जगह-जगह रावण विध्वंस लीला का भी आयोजन होगा। जितवारपुर हाउसिंग बोर्ड के मैदान में रावण दहन की तैयारी चल रही है। पंजाबी कॉलोनी में रावण, कुंभकर्ण और मेघनाद के पुतले को तैयार किया जा रहा है। पिछले एक महीने से कलाकार इसमें जुटे हुए हैं। राम-लक्ष्मण एवं हनुमान के नेतृत्व में बानरी सेना की भी तैयारियां चल रही है। राम की भूमिका में यशस्वी और लक्ष्मण की भूमिका में शास्वत हाेंगे। पुनीत तनेता रामभक्त हनुमान के रूप में दिखेंगे। रावण विध्वंस लीला में शामिल होने वाले कलाकारों को तैयार किया जा रहा है। वहीं पश्‍चिम चंपारण में बुधवार शाम को पुतला दहन होगा। इसके लिए खास तैयारी चल रही है। कोरोना संक्रमण  की वजह से पिछले दो साल से पुतला दहन का कार्यक्रम बाधित था। वहीं मुजफ्फरपुर में भी कुछ जगहों पर तैयारी है। हालांकि यहां ट्रैफिक व्‍यवस्‍था पर कोई खास असर नहीं पड़ता है।  

ट्रैफिक व्यवस्था पर विशेष नजर

समस्तीपुर जिला दशहरा कमेटी के सचिव मुकेश कटारिया, संजय पाहवा, विनोद तनेजा, संजय बठेजा, काकू तनेजा, विजय ढ़िगरा ने बताया कि कमेटी के द्वारा पिछले 67 साल से रावण विध्वंस लीला का आयोजन किया जा रहा है। इस साल रावण के पुतले की उंचाई 60 फीट, कुंभकर्ण 50 फीट और मेघनाथ 40 फीट का तैयार किया गया है। इस काम में स्थानीय कारीगरों को लगाया गया था। जो पिछले एक माह से दिन-रात मेहनत कर रहे थे। उन्होंने बताया कि पिछले दो साल कोरोना संक्रमण के कारण आयोजन स्थगित था। इस बार पूरी तैयारी है। बुधवार को विजयादशवीं के अवसर पर जितवारपुर हाउसिंग बोर्ड मैदान में संध्या रावण विध्वंस लीला का आयोजन किया जाएगा। रावण दहन को ध्यान में रखते हुए ट्रैफिक व्यवस्था पर प्रशासन की विशेष नजर है।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट