मुजफ्फरपुर, जेएनएन। एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) प्रभावित प्रखंड के गरीबों को राशन कार्ड मुहैया कराने की सरकारी मुहिम तेज गति से चल रही है। अबतक पात्रता को पूर्ण करनेवाले कुल 2000 लोगों के राशन कार्ड का निर्माण कर लिया गया है। जिलाधिकारी आलोक रंजन घोष ने इस सिलसिले में संबंधित अनुमंडल पदाधिकारियों को लगातार मॉनीटरिंग करने का निर्देश दिया है। उपरोक्त आलोक में एसडीओ पूर्वी कुंदन कुमार चीजों को देख रहे हैैं।

 बताया गया है कि प्रभावित और पात्र लोगों की सूची लगातार विशेष तरह के सॉफ्टवेयर में अपडेट हो रही है। तत्काल कार्ड निर्गत किए जा रहे हैैं। नवंबर के प्रथम सप्ताह से वितरण की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। इसे 15 नवंबर तक पूरा कर लिया जाएगा। बता दें कि अबतक मुशहरी, मीनापुर और बोचहा प्रखंड में 1500 लोगों का कार्ड बना है। शेष दो प्रखंड बोचहां और कांटी में पांच सौ कार्ड बना है। लगातार कार्ड बनाने की प्रक्रिया चल रही है। 

इन प्रखंडों के प्रभावित परिवारों को देनी है सुविधा 

बता दें कि एईएस से प्रभावित हुए जिले के मोतीपुर, बोचहां, कांटी, मीनापुर और मुशहरी प्रखंड के गरीब परिवारों को राशन कार्ड देना है। इसके लिए सरकारी स्तर पर तमाम कार्यों की समय सीमा निर्धारित की गई है। इस स्थिति में स्थानीय अधिकारी लगातार सरकारी टास्क को पूरा करने में लगे हैैं।   

 इस बारे में मुजफ्फरपुर एसडीओ पूर्वी कुंदन कुमार ने कहा कि राशन कार्ड निर्माण की दिशा में लगातार काम कर रहे हैं। अबतक अनुमंडल के तीन प्रखंडों में 1500 कार्ड तैयार कर लिए गए हैैं। नवंबर के प्रथम सप्ताह से वितरण शुरू होगा।

Posted By: Ajit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस