मुजफ्फरपुर, जेएनएन। केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान ने कहा कि ना तो देश के संविधान को खतरा है और ना ही आरक्षण व्यवस्था को। जिस कांग्रेस ने कभी देश में आरक्षण लागू नहीं होने दिया, वह आज भ्रम फैला रही है। देश में एक दलित रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति बनाने का काम नरेंद्र मोदी ने किया। वहीं सामाजिक सद्भाव के लिए गरीब सवर्ण को भी आरक्षण का लाभ दिया।

उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस कभी भी आरक्षण की हितैषी नहीं रही है। मोदी ने देश से लेकर विदेश तक भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई की। हम जमीन व आकाश में लड़ रहे। यही प्रधानमंत्री हमें चाहिए, क्योंकि उनका 56 नहीं, 156 इंच का सीना है। 

दरभंगा के राज मैदान में एनडीए की विजय संकल्प रैली में लोजपा प्रमुख ने कहा कि मिथिला आंदोलन की भूमि रही है। यह जानती है कि संविधान को समाप्त कर इमरजेंसी किसने लगाया था। विरोध करने पर जयप्रकाश नारायण से लेकर नरेंद्र मोदी को जेल में बंद कर दिया गया था। उन्होंने जेपी के लिए लिखी गई दिनकर की कविता भी लोगों को सुनाई।

पासवान ने कहा कि एनडीए ने नहीं, गुजराल सरकार में जेल भेजे गए थे लालू। उन्‍होंने लालू की चर्चा करते हुए कहा कि वे जेल में हैं, मगर बाहर हल्ला हो रहा कि एनडीए की सरकार ने उन्हें जेल में बंद किया। मैं यह पूछना चाहता हूं कि जब चारा घोटाला में वे जेल गए थे तो किसकी सरकार थी। उन्‍होंने खुद इसका जवाब देते हुए कहा कि जिस समय लालू जेल गए, उस समय इंद्रकुमार गुजराल प्रधानमंत्री थे। उन्‍होंने कहा कि शरद यादव की भी इसमें भूमिका थी। 

Posted By: Rajesh Thakur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप