मुजफ्फरपुर, जागरण संवाददाता। विशेष पुलिस टीम ने पश्चिमी इलाके में सक्रिय शराब धंधेबाजों की गिरफ्तारी को लेकर रविवार की देर रात कई जगहों पर छापेमारी की। इस दौरान एक संदिग्ध को पकड़ा गया है। जिससे पूछताछ की जा रही है। सरैया एसडीपीओ राजेश शर्मा ने बताया कि गत दिनों करजा व पारू इलाके से जब्त शराब मामले में कई आरोपितों के नाम सामने आए थे। इसी मामले छापेमारी चल रही है। जिसमे एक संदिग्ध को पकड़ा गया है। बता दे कि पिछले महीने करजा व पारू इलाके से शराब की बड़ी खेप पकड़ी गई थी। जिसमे कई धंधेबाजों को पकड़ा गया था। इसी मामले में कई की पहचान की गई थी, जो फरार चल रहा है। जिस पर विशेष टीम पश्चिमी इलाके के कई जगहों पर छापेमारी की।

 बताते चले कि गत महीने की छापेमारी में करजा इलाके से 50 लाख रुपये, आर्म्स व अन्य सामान जब्त किए गए थे। इस दौरान चार धंधेबाजों को गिरफ्तार किया गया था। पूछताछ में और धंधेबाजो के नाम सामने आए थे। इसी में चुन्नू ठाकुर का भी नाम आया था। कहा गया था कि कुख्यात चुन्नू ठाकुर का ही शराब का सिंडिकेट चल रहा था। जिसमे ये सभी सक्रिय थे। मामले में चुन्नू समेत अन्य को आरोपित किया गया था। मगर चुन्नू समेत अन्य की गिरफ्तारी नही हो सकी थी।

 ठिकाने से गिरफ्तार आरोपितों के पूछताछ में कई बातों की जानकारी मिली थी। वे लोग किससे शराब की खेप मंगवाते है। किस तरीके से उनके ठिकाने पर पैसा भेजा जाता है। इन सभी बातों की जानकारी पुलिस को चला था। पुलिस ने इनके पास से जब्त मोबाइल का कॉल डिटेल्स निकाला। जिसमें  शराब धंधे में शामिल एक दर्जन से अधिक धंधेबाजों के मोबाइल नंबर भी पुलिस को मिले है। जिस पर वैज्ञानिक जांच के साथ आगे की कार्रवाई चल रही है। इन सभी के संपर्क हरियाणा के सिंडिकेट से है। इनके मोबाइल नंबर भी पुलिस के हाथ लगे है। इन सभी का कॉल रिकार्ड को खंगालकर नकेल कसने की कार्रवाई चल रही है। साथ ही गैरकानूनी ढंग से अर्जित संपत्ति का भी पता लगाया जा रहा है, ताकि संपत्ति जब्त करने की भी कवायद की जा सके।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप