मुजफ्फरपुर : मुरौल प्रखंड की सादिकपुर मुरौल पंचायत के वार्ड -11 में पिछले डेढ़ माह से नल से जल नहीं आने से जल संकट उत्पन्न हो गया है जिससे आक्रोशित ग्रामीणों ने शुक्रवार को विरोध प्रदर्शन किया। ग्रामीण शोभा देवी, प्रभु पोद्दार, गोपी साह, गोविन्दा साह, सुरेश पोद्दार, नागेंद्र साह, अनिल भगत ने कहा कि पिछले डेढ़ माह से अधिक समय से पानी नहीं आ रहा है जिस कारण पेयजल की समस्या उत्पन्न हो गई है। सुरेश भगत ने कहा कि अभिकर्ता की मनमानी के कारण नल- जल योजना भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई है। इसकी उच्चस्तरीय जाच होनी चाहिए क्योंकि ग्रामीणों को पानी नहीं मिल पा रहा है। बीडीओ चंद्रकाता ने बताया कि जाच कर कार्रवाई किया जाएगी।

सकरा में खाद की कालाबाजारी से किसान परेशान

सकरा प्रखंड के ग्रामीण क्षेत्रों में खाद की कालाबाजारी चरम पर है। किसान महंगे दाम पर खाद खरीदने को विवश हैं। प्रखंड के कृषि विभाग द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जाती है जिससे किसान परेशान हैं। किसान मंटू सिंह, वशिष्ठ राय, सुनील कुमार, अनिल कुमार अनल ने बताया कि कि अभी गेहूं की बोआई का कार्य चल रहा है। दुकानों में खाद महंगे दाम में मिल रही है। आधार कार्ड देने के बावजूद 45 किलो यूरिया की कीमत तीन सौ रुपये, 50 किलो डीएपी की कीमत 16 सौ, 50 किलो पोटाश की कीमत 13 से 15 सौ रुपये ली जा रही है जिससे किसानों में आक्रोश है। खालीकनगर गौड़ीहार पंचायत के निवर्तमान मुखिया महेश शर्मा, पंचायत समिति सदस्य रूबी शर्मा ने इस संबंध में प्रखंड कृषि पदाधिकारी से दूरभाष पर शिकायत की। कहा कि किसानों को उचित मूल्य पर खाद नहीं मिला तो आदोलन किया जाएगा।

Edited By: Jagran