बेतिया (पश्चिम चंपारण), जासं। ब‍िहार के बेत‍िया में एक चौंकाने वाली घटना का पर्दाफाश हुआ है। गोपालपुर थाना क्षेत्र के बकुलहर गांव स्थित रामजानकी मंदिर के पुजारी रुदल प्रसाद वर्णवाल (55) की हत्या का पुलिस ने 18 घंटे के भीतर पर्दाफाश करते हुए एक युवक को गिरफ्तार कर लिया । उसने हत्या सिर्फ इसलिए की, क्योंकि मंदिर से सामान चुराने पर पुजारी ने नाराजगी जताई थी । ग्रामीणों से उसे डांट-फटकार लगवाई थी । इस बेइज्जती के बाद उसने यह कदम उठाया।

एसपी उपेंद्रनाथ वर्मा ने बताया कि चनपटिया थाना क्षेत्र के पिपरा निवासी अच्छेलाल कुमार को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया है । उसके पास से खून लगा गमछा, शर्ट, गंजी बरामद हुआ है। साथ ही पुलिस ने मंदिर से चोरी किया गया गमछा बरामद किया है । एसपी ने बताया कि अच्छेलाल ने कुछ दिन पहले ही मंदिर से एक गमछा चुराया था। वह अक्सर मंदिर से छोटा-मोटा सामान चोरी कर लेता था । इसे लेकर मूक-बधिर पुजारी ने नाराजगी जताई थी। पुजारी ने ग्रामीणों के सहयोग से अच्छेलाल को डांट-फटकार लगाई थी। इससे वह काफी नाराज था।

मंगलवार की रात वह पेड़ के सहारे मंदिर में घुसा । सोये पुजारी का गला पहंसुल से काट दिया। इसके बाद मंदिर का गेट खोल पुजारी का सिर लेकर वहां से ढाई दो किलोमीटर दूर काली मंदिर के गेट पर रख दिया। बाद में एक चापाकल पर जाकर स्नान किया । घटनास्थल पर उसकी चप्पल छूट गई थी । जांच के दौरान घटनास्थल के कुछ दूर ङ्क्षसदूर लगा कटा भतुआ मिला था । तब पुलिस को तांत्रिक विद्या की ओर ध्यान गया । पूछताछ में ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि अच्छेलाल की तंत्र विद्या में रुचि है। पुलिस ने घटनास्थल पर छूटी चप्पल की पहचान उसके छोटे भाई से कराई। बुधवार की रात पुलिस उसे गांव के बाहर सरेह से गिरफ्तार कर लिया।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh