मुजफ्फरपुर। पश्चिमी चंपारण जिले के बेतिया शहर के कमलनाथनगर मोहल्ले से रात एक कार से दो बोतल अंग्रेजी शराब जब्ती के मामले में पुलिस को सूचना देनेवाला सेलफोन धारक भी संदेह के दायरे में आ गया है। पुलिस सच्चाई का पता लगाने का प्रयास कर रही है कि आखिर कार में शराब किसने रखी थी? पुलिस कार मालिक को भी संदेहास्पद मान रही है। मामले की जांच की जा रही है। थानाध्यक्ष नित्यानंद चौहान ने बताया कि कार मालिक की पहचान कर ली। सफेद रंग की स्वीफ्ट डिजायर कार का मालिक बेगुसराय जिले के चेरिया बरियारपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत मझौल का रहनेवाला पीयूष कुमार है, जो फिलहाल मुजफ्फरपुर के भगवानपुर में रहते हैं। कार मालिक ने पुलिस से बताया है कि वे आईटीएल कंपनी की मी¨टग में बेतिया आए थे। सड़क किनारे कार खड़ी की गई थी। यहां बता दें कि शनिवार की रात थानाध्यक्ष को किसी ने फोन कर सूचना दी थी कि कमलनाथनगर में खड़ी सफेद रंग के स्विफ्ट डिजायर कार में शराब रखी हुई है। सूचना देने वाले ने मीडिया कर्मियों को भी फोन पर यह जानकारी दी थी। सूचना के आलोक में थानाध्यक्ष ने दारोगा जितेंद्र प्रसाद ¨सह वहां भेजा था। दारोगा ने देखा कि कार की खिड़की का एक शीशा आधा खुला है। कार की तलाशी ली गई तो कार में रखी गई विदेशी शराब की दो बोतलें बरामद हुई। पुलिस ने शराब और कार को जब्त कर लिया। पुलिस को अंदेशा है कि कहीं ऐसा तो नहीं कि किसी ने कार मालिक को फंसाने के लिए कार में शराब की बोतल रखकर पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस कई पहलुओं को ध्यान में रखकर मामले की तहकीकात कर रही है।

Posted By: Jagran