मुजफ्फरपुर, जासं। ब्रहमपुरा थाना क्षेत्र के लक्ष्मी चौक इलाके से पिछले साल अपहृत पांच वर्ष की खुशी के मामले में हाईकोर्ट के फटकार लगाए जाने के बाद पुलिस सक्रिय होकर हो गई है। मामले में हाईकोर्ट के आदेश पर गठित नए एसआइटी ने जांच शुरू कर दी है। टीम का नेतृत्व प्रशिक्षु डीएसपी सियाराम यादव कर रहे है। टीम में इनके साथ ब्रहमपुरा थानाध्यक्ष अनिल कुमार गुप्ता व अन्य पुलिसकर्मी शामिल है। मामले में ब्रहमपुरा पुलिस ने सीतामढ़ी नगर थाना पहुंचकर ब'चा चोरी से संबंधित केसों की फाइल को खंगाला। वहां नगर थाने के पुलिस पदाधिकारी से कई ब‍िंदुओं पर जानकारी ली।

अब 14 जुलाई को हाईकोर्ट में सुनवाई की तिथि निर्धारित 
बता दें कि एसएसपी जयंत कांत व नगर डीएसपी रामनरेश पासवान लक्ष्मी चौक पहुंचकर घटना के संबंध में स्थानीय लोगों से पूछताछ कर जानकारी ली थी । मामले में 14 जुलाई को हाईकोर्ट में सुनवाई की तिथि निर्धारित की गई है। इसमें पुलिस को फिर उपस्थित होना है । इसको देखते हुए बच्‍चा चोरी , मानव तस्करी समेत अन्य ब‍िंदुओं पर पुलिस जांच कर सुराग लगाने में जुटी है । मालूम हो कि पिछले वर्ष 16 फरवरी खुशी पड़ोस के सरस्वती पूजा पंडाल में घूमने को गई थी । इसी क्रम में वह गायब हो गई थी । खोजबीन में कोई पता नहीं चलने के बाद स्वजन ने ब्रहमपुरा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी। पुलिस की शिथिलता को देख स्वजन के साथ स्थानीय लोगों द्वारा कई दिनों तक धरना-प्रदर्शन किया गया था। कैंडल मार्च भी निकाला गया था । इन सभी के बीच भी पुलिस पूरे मामले में अब तक विफल रही । इसके बाद स्वजन हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया । हाईकोर्ट में मामले की सुनवाई हुई । इसके बाद जिला पुलिस के वरीय अधिकारी को इस मामले में कड़ी फटकार लगाई गई । फिर मामले में सख्ती से काम शुरू हुआ।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh