दरभंगा, जासं। बढ़ते अपराध के खिलाफ भाकपा माले व इंसाफ मंच के कार्यकर्ताओं ने एसएसपी कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने अपराधियों के बढ़ते मनोबल, लगातार घटित हत्याकांडों के पर्दाफाश में विफलता और अनुसंधान में लीपापोती को लेकर पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। भूषण मंडल की अध्यक्षता में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए माले राज्य कमेटी के सदस्य अभिषेक कुमार ने कहा कि दरभंगा में अपराधियों का मनोबल बढ़ गया है। लगातार लूट व हत्या की घटनाओं को अंजाम देकर बदमाशों ने सनसनी फैला दी है, लेकिन पुलिस सुस्त पड़ी है।

सिर्फ खानापूर्ति के लिए एक-दो आरोपितों की गिरफ्तार

कहा कि नगर थानाक्षेत्र के जीएम रोड में गर्भस्थ शिशु सहित तीन लोगों को जला दिया गया। बहादुरपुर थानाक्षेत्र के पुरखोपट्टी की दो बहनों की हत्या, फ्रेंडस कालोनी के सामने दरभंगा-समस्तीपुर पथ पर कैशियर जटाशंकर चौधरी की गोली मारकर हत्या व लूट, सदर थानाक्षेत्र में सर्वेश पासवान की हत्या कर दी गई। नगर थानाक्षेत्र क्षेत्र के शुभंकरपुर में शराब धंधेबाज ने अपनी चाची विभा देवी को चाकू से गोदकर और बहादुरपुर के रामनगर में भूमि विवाद में 11 वर्षीय प्रिंस की हत्या कर दी गई। लेकिन, पुलिस सभी मामले में निष्क्रिय बनी है। पुलिस एक-दो आरोपितों को गिरफ्तार कर सिर्फ खानापूर्ति की है। सभी मामलों को दबाने में लगी हुई हैं। इससे लोगों में पुलिस के प्रति अविश्वास पैदा हो रहा हैं और पीडि़त परिवार न्याय के लिए ना उम्मीद हो रहें हैं।

पुलिस की मिलीभगत से फरार है हत्या का आरोपित

इंसाफ मंच के प्रदेश उपाध्यक्ष नेयाज अहमद ने कहा कि सर्वेश पासवान के हत्या में शहर के एक जनप्रतिनिधि का नाम आया है। लेकिन, पुलिस उनकी भूमिका की समग्र जांच नहीं कर रही है। जीएम रोड कांड में पुलिस लीपापोती करने में लगी है। दैनिकी प्रतिवेदन में मृतक संजय झा का बयान भी दर्ज नहीं है। जख्मी बहन निक्की झा के बयान को बदल दिया गया है। महानगर प्रभारी भूषण मंडल ने कहा कि शुभंकरपुर में हुई विभा देवी की हत्या में मुख्य आरोपित रवि महतो पुलिस की मिलीभगत से अब फरार चल रहा है। सभा को हरि पासवान, विश्वनाथ पासवान, रंजन ङ्क्षसह, आइसा जिलाध्यक्ष प्रिंस कुमार, जिला सचिव मयंक कुमार, एक्टू नेता रामनारायण पासवान, जिप सदस्य सुमित्रा देवी, नागेंद्र यादव, शत्रुघ्न पासवान, रिजवान आजाद, दामोदर पासवान, नंदलाल ठाकुर, विनोद सिंह, प्रमिला देवी, डोमनी देवी, नागेंद्र यादव आदि ने संबोधित किया। बाद में शिष्टमंडल ने 11 सूत्री मांग-पत्र एसएसपी को सौंपा।

Edited By: Dharmendra Kumar Singh