मुजफ्फरपुर, जेएनएन। मारपीट की शिकायत करने पहुंचे दंपती की थाने पर पुलिस कर्मियों ने जमकर पिटाई कर दी। पीडि़त ससना निवासी पप्पू सहनी और वीणा देवी अपने चार माह के बच्चे के साथ मारपीट की शिकायत करने बरूराज थाना पहुंचे थे। पुलिसकर्मियों की पिटाई से पप्पू सहनी एक घंटे तक थाना परिसर में ही बेहोश पड़ा रहा। बाद में दोनों को पुलिस ने मोतीपुर पीएचसी में भर्ती कराया।

 पीडि़त ने बताया कि तीन दिनों से उसका पड़ोसी आपसी रंजिश में उसके और परिजनों से विवाद कर रहा था। मारता-पीटता भी था। तीन दिनों से वह पुलिस को इसकी सूचना दे रहा था। उसका आरोप है कि सूचना के बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंच रही थी। शुक्रवार को भी उसकी और पत्नी की पड़ोसी ने जमकर पिटाई कर दी। पिटाई के दौरान ही गांव के ही एक युवक से उसने थाने को फोन कराया। पुलिस का कहना है कि फोन करने के दौरान पप्पू सहनी ने पुलिस कर्मियों को गाली दी।

 हालांकि पुलिस मौके पर पहुंची और पीडि़त दंपती को जख्मी स्थिति में थाने ले आई। पप्पू साहनी जख्मी पत्नी को पानी पिलाने के लिए पानी लाने थाना परिसर में लगे चापाकल पर जा रहा था, तभी थाने से कुछ पुलिसकर्मी निकले और पप्पू पर पुलिस को फोन पर गाली देने का आरोप लगाकर पकड़ लिया। इसके बाद सबने मिलकर उसकी फैट- मुक्का से पिटाई शुरू कर दी। पति को पीटते देख जख्मी पत्नी उसे बचाने के लिए पुलिसकर्मियों के पांव पकड़ती रही। उसकी गोद मे चार माह का नवजात भी था।

 पुलिसकर्मियों ने पप्पू साह को तो पीटा ही, बचाने गई पत्नी को भी नहीं बख्शा। पुलिस की पिटाई से वह बेहोश हो गया। पुलिसकर्मियों की इस बर्बरता दो सड़क से देख रहे सैकड़ों लोगों को पुलिसकर्मियों ने गाली देकर भगा भी दिया। पुलिसकर्मियों ने बेहोश पप्पू सहनी को एक घंटे तक थाना परिसर में ही लिटाये रखा। होश आने पर एक चौकीदार के साथ बाइक से इलाज के लिए दोनों को पीएचसी में भर्ती कराया।

 हालांकि थनाध्यक्ष अनूप कुमार ने दंपती की पिटाई से इन्कार किया। कहा कि आपसी रंजिश में पिटाई से पप्पू सहनी और वीणा देवी जख्मी थे जिन्हें पीएचसी में भर्ती कराया गया। इधर, डीएसपी पश्चिमी कृष्ण मुरारी प्रसाद ने बताया कि मामले की जानकारी नहीं है। जानकारी लेकर इसकी जांच की जाएगी।  

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ajit Kumar

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप