शिवहर, जासं। पिपराही थाना पुलिस ने दहेज के लिए विवाहिता की हुई हत्या मामले में शनिवार को पूर्वी चंपारण जिले के ढाका में छापेमारी कर मृतका प्रियंका देवी की सास नीलम देवी व देवर राधा रमण उर्फ लालू को गिरफ्तार कर लिया। वहीं दोनों मां- बेटे को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। बताते चलें कि, छह जून को परसौनी बैज गांव में दहेज के लिए प्रियंका देवी नामक एक विवाहिता की गला दबाकर हत्या कर दी गई थी। वहीं मायका वालों को सूचना दिए बगैर आनन-फानन में शव का अंतिम संस्कार भी कर दिया गया था। मृतका के भाई जिले के श्यामपुर भटहा थाना क्षेत्र के बीरा छपरा निवासी संजय कुमार ने आठ जून को पिपराही थाने में दहेज हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई। जिसमें मृतका के पति, देवर, सास और ससुर को आरोपित किया था।

पिपराही थानाध्यक्ष राज कौशल ने ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी पति विक्की चौबे और ससुर सुमंत चौबे को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। वहीं सास और देवर की तलाश जारी थी। जबकि, दोनों पूर्वी चंपारण जिले के ढ़ाका में अपने रिश्तेदार के यहां छिपे थे। इसकी मिली गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने ढाका में छापेमारी कर दोनों को दबोच लिया। बताते चलें कि, प्रियंका देवी तीन बच्चों की मां थी। शादी के कुछ समय बाद ही पति समेत ससुराल वाले बतौर दहेज दो लाख रुपये की डिमांड करते रहे। इन्कार करने पर प्रियंका को प्रताडि़त करने लगे। इसी क्रम में छह जून की रात पति समेत ससुराल वालों ने पिटाई कर और गला दबाकर प्रियंका की हत्या कर दी थी।

  • पिपराही पुलिस ने पूर्वी चंपारण जिले के ढाका में छापेमारी कर किया गिरफ्तार
  •  छह जून को पिपराही बैज गांव में दहेज के लिए प्रियंका देवी की गला दबाकर की गई थी हत्या
  •  मामले में आठ जून को पति और ससुर को गिरफ्तार कर पुलिस ने भेजा था जेल