मुजफ्फरपुर, जेएनएन। B.R. Ambedkar University : राज्य सरकार द्वारा वित्तरहित कॉलेजों के मद में एक हजार करोड़ का अनुपूरक बजट पास करने पर शिक्षकों में हर्ष है। बिहार राज्य संबद्ध डिग्री महाविद्यालय शिक्षक संघ संचालन समिति ने सरकार के इस निर्णय का स्वागत किया है। 

वर्चुअल मीटिंग में संघ के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. विभूति भूषण सिंह ने कहा कि शिक्षक संघ संचालन समिति 10 महीने से अपनी मांग के समर्थन एवं लंबित समस्याओं के समाधान के लिए धरना प्रदर्शन के माध्यम से संघर्ष कर रही थी। लॉकडाउन अवधि में भी संचालन समिति ने कलम क्रांति अभियान शुरू कर लगभग चार हजार ई-मेल राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मुख्य न्यायाधीश, बिहार सरकार एवं राज्यपाल को भेजा था।

संघ के संयुक्त मीडिया प्रभारी प्रोफेसर रणविजय कुमार सिंह ने बताया कि शिक्षाविद एवं बिहार विधान परिषद के सदस्य संजीव कुमार सिंह ने शिक्षकों की लंबित समस्याओं के प्रति सरकार का जोरदार तरीके से सदन में ध्यान आकृष्ट कराया, जिसका प्रतिफल सामने है। संघ के मीडिया प्रभारी डॉ. ललित किशोर ने कहा कि जब तक लंबित अनुदान की राशि वित्त रहित शिक्षकों के खाते में नहीं पहुंच जाती, तब तक कलम क्रांति अभियान जारी रहेगा।

वर्चुअल मीटिंग में भाग लेने वालों में डॉ. संजय चौहान, डॉ.दिनेश मिश्रा, डॉ. ललितेश नारायण प्रसाद, डॉ. रवि शंकर, डॉ. धीरेंद्र कुमार सिंह, डॉ. अजय श्रीवास्तव, डॉ. प्रकाश कुमार, प्रो. रणविजय कुमार सिंह, प्रो. विनय कुमार विपिन, डॉ. अनिल धवन, डॉ. राकेश कुमार, डॉ. शरतेनदु, डॉ. राजीव कुमार, डॉ. सीमा कुमारी, डॉ. बबीता कुमारी, डॉ. अमृता मजूमदार, डॉ. नीलम कुमारी, प्रो. रंजन पाठक, प्रो. अमरेश श्रीवास्तव, प्रो. शशि आदि थे। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस