मुजफ्फरपुर, जासं। पक्की सराय आजाद मार्केट के पास से डेढ़ लाख के ई-टिकट के साथ एक युवक को आरपीएफ ने गिरफ्तार किया है। वह तीनकोठिया मिठनपुरा का रहने वाला जावेद अहमद बल्लू बताया गया है। उक्त मार्केट की कनेक्ट इंडिया ट्रेवल में काम करता था। पर्सनल आइडी से काफी संख्या में लगातार टिकट काट रहा था। उसे पकडऩे के लिए आरपीएफ दो दिनों से मशक्कत कर रहा था। सुबह में जाने पर दुकान बंद मिलती थी। हालांकि उसे तीसरे दिन पकड़ लिया गया। उसके पास से 70 ई-टिकट (करीब डेढ़ लाख रुपये के), एक लैपटॉप, दो स्क्रीनटच मोबाइल फोन, कुछ नकदी आदि बरामद की गई है। छापेमारी दल में इंस्पेक्टर बीपी वर्मा, एसआइ केके पासवान, सुजीत कुमार, सुस्मिता ङ्क्षसह, कांस्टेबल सुभाष पांडेय, यजुवेंद्र कुमार आदि थे। 

तीन वर्षों से फरार आरोपित गिरफ्तार

मीनापुर (मुजफ्फरपुर): थाना क्षेत्र के खरहर निवासी नंदकिशोर सहनी को नाटकीय अंदाज में उसके घर से ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। पास्को एक्ट में करीब तीन साल से फरार चल रहा था। वह अपनी मां के निधन पर भी पुलिस के डर से घर नहीं आया था। वह नेपाल में छिपा था। विगत दिनों वह घर आया तो इसकी भनक पुलिस को लग गई और उसे गिरफ्तार कर लिया। थानाध्यक्ष प्रभात रंजन सक्सेना ने बताया कि वह पास्को मामले में तीन साल से फरार चल रहा था।

दहेज के लिए विवाहिता ने कीे प्रताडऩा की शिकायत

पारू (मुजफ्फरपुर), संस : थाना क्षेत्र के गाढ़ा बहराम गांव में दहेज में पांच लाख रुपये नहीं देने पर नवविवाहिता के साथ पति और सास द्वारा मारपीट कर प्रताडि़त करने का मामला प्रकाश में आया है। पीडि़ता ने पति- सास समेत चार लोगों के विरुद्ध बुधवार को थाने शिकायत दर्ज कराई है। पीडि़ता पूजा कुमारी ने बताया कि उसकी शादी 30 नवंबर 2020 को गाढ़ा बहराम निवासी रविशंकर कुमार राय से हुई थी। शादी के वक्त मेरे माता-पिता ने उपहार स्वरूप बाइक, तीन लाख रुपये नकद समेत कई सामान दिए थे। इसके बाद भी पति रविशंकर और सास गीता देवी चारपहिया वाहन खरीदने के लिए मायके से पांच लाख रुपये लाने के लिए बार-बार प्रताडि़त कर मारपीट करते हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Edited By: Ajit Kumar